comScore

प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने की जल्दी में नहीं तमिलनाडु के उद्योग

June 06th, 2020 19:31 IST
 प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने की जल्दी में नहीं तमिलनाडु के उद्योग

हाईलाइट

  • प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने की जल्दी में नहीं तमिलनाडु के उद्योग

चेन्नई, 6 जून (आईएएनएस)। तमिलनाडु में प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने वाले प्रमुख उद्योग अभी उन्हें लाने की जल्दी में नहीं हैं और वे सही समय का इंतजार कर रहे हैं।

यहां तक कि एक रियल एस्टेट कंपनी, जिसने शुरू में प्रवासी श्रमिकों के एक समूह को एक साइट पर लाने के बारे में सोचा था, उसने भी इस योजना को टाल दिया और फिलहाल वह नियमित ट्रेन सेवाओं के फिर से शुरू होने की प्रतीक्षा कर रही है।

तिरुप्पुर एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन (टीईए) के अध्यक्ष राजा एम. षणमुगम ने आईएएनएस को बताया कि नुकसान प्रवासी श्रमिकों का ही है।

उन्होंने यह भी कहा कि प्रवासी श्रमिक बेहतर मजदूरी और तमिलनाडु में काम करने के दौरान जातीय तौर पर किसी भी तरह के भेदभाव के न होने के कारण वापस आएंगे।

अकेले चेन्नई से एक लाख से अधिक प्रवासी कामगारों को श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के माध्यम से घर वापस भेज दिया गया है।

फिर भी कुछ रियल एस्टेट क्षेत्र के दिग्गज ट्रेनों द्वारा प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने की संभावनाएं तलाश रहे हैं।

न्यूरी प्रॉपर्टीज प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक एस. श्रीधरन ने आईएएनएस को बताया, हम श्रमिकों को वापस लाने की संभावनाओं की तलाश कर रहे हैं। ठेकेदारों के साथ चर्चा जारी है। राष्ट्रव्यापी बंद के मानदंडों में और ढील दिए जाने के बाद श्रमिक वापस आएंगे।

उन्होंने कहा कि कुछ कुशल कर्मचारियों को वापस लाए जाने की योजना थी, लेकिन बाद में इसे बदल दिया गया।

उद्योग के दिग्गजों के अनुसार, कुछ साइटों में उन श्रमिकों के साथ काम किया जा रहा है, जो वापस नहीं गए हैं।

ओलंपिया टेक्नोलॉजी पार्क के प्रबंध निदेशक अजीत चोरडिया ने कहा, कुछ साइटों पर निर्माण कार्य चालू है और जिन जगहों पर हमने काम शुरू नहीं किया है, उन्हें होल्ड पर रखा गया है।

उद्योग के दिग्गजों का मानना है कि परियोजनाओं में छह महीने की देरी हो सकती है और केवल अक्टूबर में ही उद्योग को वास्तविक स्थिति का सही अंदाजा होगा।

प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने के मुद्दे पर उन्होंने कहा, केवल विशेष कुशल श्रमिकों को काम पूरा करने के लिए उड़ान के जरिए लाया जा सकता है। अन्यथा बड़ी संख्या में निर्माण श्रमिकों को वापस लाने के लिए ट्रेन सेवा सबसे अच्छा तरीका है।

नवीन ग्रुप के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक आर. कुमार ने कहा, प्रवासी विभिन्न राज्यों और गांवों से हैं। वे ठेकेदारों और छोटे ठेकेदारों द्वारा यहां लाए जाते हैं। हम नहीं जानते कि वे कहां से हैं।

कमेंट करें
jHdFN