comScore

जापान में 6.1 की तीव्रता का भूंकप, 3 लोगों की मौत, 60 से ज्यादा बुलेट ट्रेंने बंद

September 05th, 2018 17:28 IST
जापान में 6.1 की तीव्रता का भूंकप, 3 लोगों की मौत, 60 से ज्यादा बुलेट ट्रेंने बंद

हाईलाइट

  • जापान के ओसाका में भूंकप के झटके
  • भूंकप की तीव्रता 6.1 आंकी गई
  • भूंकप से 2 लोगों की मौत, 60 से ज्यादा ट्रेंने रद्द, 1 लाख से ज्यादा घरों में बिजली सेवा ठप

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पश्चिमी जापान के ओसाका प्रांत में सोमवार सुबह स्थानीय समयानुसार 7.58 बजे भूंकप के झटके महसूस किए गए। भूंकप की तीव्रता 6.1 आंकी गई है। भूंकप से ओसाका में भारी नुकसान हुआ है। 3 लोगों के मारे जाने की खबर है, जबकि 70 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए है। भूंकप का केन्द्र ओसाका प्रीकेक्चर के उत्तरी हिस्से में 13 किलोमीटर की गहराई में था। हालांकि, मौसम विभाग की ओर से सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है। बताया जा रहा है कि ये जापान में आया पिछले कुछ समय में सबसे खतरनाक भूकंपों में से एक है। बता दें कि इस क्षेत्र में 1995 में ग्रेट हंसिन भूंकप से काफी ताबाही हुई थी। 7.3 की तीव्रता वाले इस भूंकप में 6434 लोग मारे गए थे। 

घटना के बाद आपदा प्रबंधन मंत्री हाचिरो ओकोनोगी ने बताया है कि यमतोकोरियामा में एक रेलवे स्टेशन पर लिफ्ट में दो लोग फंस गए है। अपार्टमेंट और इमारतों में फंसे लोगों को बचाने का काम जारी है। इसके लिए आपदा प्रबंधन की टीम और पुलिस दोनों की मदद ली जा रही है। टोक्यो में मुख्य कैबिनेट सचिव योशीहाइड सुगा ने कहा है कि ओसाका में भूंकप की सूचना मिलने के बाद प्रधानमंत्री शिन्जो आबे ने स्थिति की जानकारी लेने के साथ ही आपातकालीन बैठक बुलाई है। इसके साथ भूंकप प्रभावित क्षेत्र में हर संभव मदद पहुंचाने की बात कही है। 

एक बच्ची और दो पुरुषों की मौत

भूंकप से ओसाका में एक बच्ची समेत दो पुरुषों की मौत हो गई है। तकात्सुकी में स्वीमिंग पुल के पास दीवार के गिरने जाने से बच्ची की दब ने मौत हो गई। इबारकी में घर के अंदर रखे बुकसेल्फ ऊपर गिर जाने से 80 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई वही एक अन्य व्यक्ति की जान भी भूंकप के तेज झटके आने से गई है।

60 से अधिक बुलेट ट्रेनें रद्द

जापान के ओसाका, शिगा, क्योतो और नारा में हाईस्पीड बुलेट ट्रेन और स्थानीय रेल सेवाएं बाधित हुई है। करीब 60 बुलेट ट्रेने रद्द की गई हैं। इसके साथ ही एक्सप्रेस वे भी बंद करा दिए गए थे। कंसई और कोबे इंटरनेशनल हवाई अड्डे अस्थायी रूप से बंद करा दिए गए थे, लेकिन स्थिति सामान्य होने के बाद हवाई यात्रा शुरू कर दी गई है। प्रशासन का कहना है कि भूकंप से क्षेत्र में 15 में से कोई भी परमाणु रिएक्टर प्रभावित नहीं हआ। भूकंप के बाद ओसाका में लगभग 170,000 घरों में बिजली आपूर्ति ठप हो गई।

कमेंट करें
cKVzx