दैनिक भास्कर हिंदी: पाकिस्तान की आर्थिक हालात नाजुक मोड़ पर, नेपाल-भूटान से भी पिछड़ने के करीब

September 26th, 2019

हाईलाइट

  • एशियन डेवल्पमेंट बैंक ने की रिपोर्ट जारी
  • रिपोर्ट में बताया पाकिस्तान की जीडीपी ग्रोथ रहेगी सबसे कम
  • वित्तवर्ष 2019-20 में 2.8 फीसदी रहने का अनुमान

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था दिन-ब-दिन खराब होती जा रही है। पाकिस्तान की स्थिति आने वाले वक्त में कई गुना बदतर होने वाली है। पाकिस्तान की जीडीपी इस साल नेपाल और मालदीव से भी पिछड़ने के करी है। एशियन डेवल्पमेंट बैंक ने एक रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान की जीडीपी ग्रोथ सबसे कम रहेगी।वित्तवर्ष 2019-20 में यह 2.8 फीसदी रह सकती है। 

नेपाल-भूटान पाकिस्तान से आगे

एशियन डेवल्पमेंट बैंक (एडीबी) की रिपोर्ट के अनुसार एशियाई देशो में पाकिस्तान की जीडीपी सबसे कम रहेगी। वहीं, अफगानिस्तान की जीडीपी ग्रोथ वित्तवर्ष में 3.4 फीसदी, श्रीलंका की 3.5 फीसदी, भूटान की 6 फीसदी, मालदीव की 6.3 फीसदी, नेपाल की 6.3 फीसदी, भारत की 7.2 फीसदी और बांग्लादेश की 8 फीसदी रहने का अनुमान है। 

महंगाई तोड़गी रिकॉर्ड

एडीबी की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में महंगाई आने वाले वक्त में रिकॉर्ड तोड़ने वाली है। यहां जनता को महंगाई से राहत नहीं मिलने वाला है। पाक रुपए की कमजोर और टैक्स में बढ़ोत्तरी से महंगाई दर 12 प्रतिशत को भी पार कर सकते है। हालांकि मौजूद समय में महंगई दर 11 फीसदी के ऊपर है।

राकोषीय घाटा में बढ़ोत्तरी

पाकिस्तान के कमजोर नीतियों के कारण राजकोषीय घाटा बढ़ता जा रहा है। एडीबी रिपोर्ट में कहा गया है कि जबतक पाक का आर्थिक संतुलन ठीक नहीं होता, आर्थिक हालात कमजोर ही रहेगी। महंगाई के कारण मुद्रा पर दबाव बन रहा है। पाकिस्तान को भारी मात्रा में फंडिंग की जरूरत है।