दैनिक भास्कर हिंदी: 11 हजार अमेरिकयों से ठगे 250 करोड़, 20 साल जेल में रहेंगे 21 भारतीय

July 21st, 2018

हाईलाइट

  • अमेरिकियों से करीब 250 करोड़ की ठगी करने के आरोप में 21 भारतीयों को 4 से 20 साल तक की जेल।
  • भारतीय फर्जी कॉल सेंटर के जरिए अमेरिकी लोगों से करते थे ठगी।
  • कॉल सेंटर की भारत के कई शहरों में ब्रांच थी।

डिजिटल डेस्क. न्यूयॉर्क। 11 हजार अमेरिकियों से करीब 250 करोड़ रुपए ठगने के आरोप में 21 भारतीयों को 4 साल से लेकर 20 साल तक की सजा सुनाई गई है। अमेरिका में रह रहे ये 21 भारतीय फर्जी कॉल सेंटर के जरिए अमेरिकी लोगों को ठगने का काम करते थे। अमेरिका में दोषी ठहराए गए 21 लोग इस रैकेट का हिस्सा थे। सजा पूरी होने के बाद सभी को भारत भेज दिया जाएगा। कॉल सेंटर की भारत के कई शहरों में ब्रांच थी। 

 

गिरफ्तारी की देते थे धमकी
कॉल सेंटर्स के भारतीय कर्मचारी टैक्स न चुका पाने वाले अमेरिकियों को इनकम टैक्स विभाग का अफसर बनकर फोन करते थे। अमेरिकन इंग्लिश बोलकर कर्मचारी अमेरिकियों को फंसाते थे। कॉल सेंटर के कर्मचारी ज्यादातर बुजुर्गों को ही अपना निशाना बनाते थे। इनके जाल में फंसे लोग कार्रवाई से बचने 500 से 60 हजार डॉलर (करीब 34 हजार से 41 लाख रुपए) तक आसानी से दे देते थे। भुगतान न करने पर कर्मचारी अमेरिकियों को गिरफ्तारी और भारी भरकम जुर्माने की धमकी देते थे।

 

बतौर इनाम मिलते थे 1 लाख रुपए
पुलिस के मुताबिक अमेरिकियों से पैसे ऐंठने में कॉल सेंटर का जो भी कर्मचारी कामयाब हो जाता था, उसे रैकेट ऑपरेटर बतौर इनाम 1 लाख रुपए हर महीने देते थे। मामले का खुलासा जैसे ही अमेरिका में हुआ, पुणे, नोएडा और गुड़गांव में छापेमारी की गई। पुलिस ने गुड़गांव से 4, पुणे से 3 और नोएडा से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। अब तक की जांच में पता चला है कि पुणे के कॉल सेंटर से ही 11 हजार अमेरिकियों को ठगा गया।