रूस-यूक्रेन युद्ध: रूसी हताहतों की संख्या क्रेमलिन के अनुमान से कहीं अधिक: ब्रिटेन

February 26th, 2022

हाईलाइट

  • दूसरी ओर रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के मेलिटोपोल शहर पर कब्जा करने का दावा किया है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ब्रिटेन ने कहा है कि अधिकांश रूसी सेना अभी भी मुख्य शहर कीव से लगभग 30 किलोमीटर दूर है।

द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार सुबह रक्षा मंत्रालय द्वारा पोस्ट किए गए एक खुफिया अपडेट में, ब्रिटेन ने कहा कि रूस ने अभी तक यूक्रेन के हवाई क्षेत्र पर नियंत्रण हासिल नहीं किया है, जिससे रूसी वायु सेना की प्रभावशीलता कम हो गई है।

बयान के अनुसार, रूसी हताहतों की संख्या कहीं अधिक है और इसके क्रेमलिन द्वारा प्रत्याशित या स्वीकार की गई संख्या से अधिक होने की संभावना है।

द गार्जियन के अनुसार, ब्रिटेन के सशस्त्र बल मंत्री जेम्स हेप्पी ने रूस के उस दावे को खारिज कर दिया है, जिसमें उसने कहा था कि उसने दक्षिणपूर्वी शहर मेलिटोपोल पर कब्जा कर लिया है।

ब्रिटिश मंत्री ने कहा कि रूस अपने शुरुआती उद्देश्यों को प्राप्त करने में विफल रहा है और कीव के बाहर लड़ाई रूसी विशेष बलों की यूनिट्स तक सीमित थी।

वहीं दूसरी ओर रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के मेलिटोपोल शहर पर कब्जा करने का दावा किया है। रूसी रक्षा मंत्रालय ने इस बात का दावा किया है कि उसने अब शहर पर पूरी तरह कब्जा कर लिया है। कीव पर भी अपना कब्जा करने के लिए रूस लगातार हमले कर रहा है।

वहीं हेप्पी ने कहा कि अभी कोई कब्जा नहीं किया गया है और राजधानी कीव में आगे बढ़ने वाले बख्तरबंद गाड़ियों को यूक्रेनी सेना द्वारा रोक दिया गया है।

बीबीसी रेडियो 4 टुडे कार्यक्रम से बात करते हुए, जेम्स हेप्पी ने कहा कि यूक्रेन के प्रमुख शहरों पर कब्जे में लेने का लक्ष्य सफल नहीं रहा है।

उन्होंने कहा कि ब्रिटेन रूसी दावों पर विश्वास नहीं करता है कि उसने दक्षिण पूर्वी शहर मेलिटोपोल पर कब्जा कर लिया है।

द गार्जियन ने उनके हवाले से बताया कि रूस के पहले दिन के सभी उद्देश्य खारकीव, खेरसॉन, मारियुपोल, सूमी और यहां तक कि मेलिटोपोल को कब्जे में लेने का उद्देश्य सफल नहीं हो सका है और ये इलाके अभी भी यूक्रेन के पास ही हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, वास्तविकता यह है कि कीव को घेरने के लिए बेलारूस और उत्तर की ओर से आने वाले बख्तरबंद अभी भी दूर हैं, क्योंकि उन्हें इस अविश्वसनीय यूक्रेनी प्रतिरोध से रोक दिया गया है।

(आईएएनएस)