दैनिक भास्कर हिंदी: प्रिंस स्मॉग के बीच आए भारत, चीन ने ट्रंप के लिए आसमान साफ कर दिया

November 9th, 2017

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। राजधानी दिल्ली में जहरीली हवा के बीच ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स का स्वागत किया गया। स्मॉग के बीच भारत के अधिकारी प्रिंस का स्वागत करने एयरपोर्ट पहुंचे। भारत की ही तरह चीन भी पिछले कुछ दिनों से एयर पॉल्यूशन की समस्या से जूझ रहा है। इसी बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चीन पहुंचना था, लेकिन भारत की तरह चीन ने अपने मेहमान का स्वागत जहरीली हवा के बीच नहीं किया,बल्कि ट्रंप के देश पहंचने के पहले-पहले तक चीन का आसमान साफ करवा दिया और एयर पॉल्यूशन पर काफी हद तक कम कर दिया। 

Image result for trump in china and prince charles in india   Image result for trump in china and prince charles in india

दरअसल भारत की तरह पिछले कुछ दिनों से चीन भी धुंध की समस्या से जूझ रहा है। चीन के पेईचिंग इलाके में धुंध थी और बुधवार को ट्रम्प को यहां पहुंचना था और चीन अपनी ताकत का जोर दिखाया और मंगलवार रात को ही धुंध साफ कर दी। ये वाकई सोचने वाली बात है कि चीन ने ये कमाल कैसे दिखाया। दरअसल चीन ने कई सारे कड़े नियम लागू कर ये कारनामा किया है। चीन के नियम ऐसे थे, जिन्हें भारत लागू नहीं कर सकता। 

Related image  

- चीन ने गाड़ियों और कंस्ट्रक्शन पर अस्थाई रोक लगा दी। 
- स्टील, सीमेंट और कोयला कंपनियों के प्रोडक्शन पर अस्थाई रोक लगा दी।
- दूसरे शहरों से आने वाले वाहनों पर रोक लगा दी गई और पब्लिक ट्रांसपोर्ट इस्तेमाल करने निर्देश जारी किए गए है।
- एंटी स्मॉग गन का इस्तेमाल किया गया, जिससे पानी की बौछार के साथ डस्ट पार्टिकल्स नीचे आ गए।

भारत के लिए मुमकिन नहीं है चीन जैसे नियम

 

- आपको लग रहा होगा कि भारत इन नियमों को लागू क्यों नहीं कर सकता। भारत के लिए निर्माण कार्य रुकवाना बेहद मुश्किल है। ऐसा करने से देश को काफी आर्थिक नुकसान होगा और भारत इस तरह का आर्थिक नुकसान वहन नहीं कर सकता है। 

- वहीं वाहनों पर रोक लगाने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को मजबूत बनाना होगा साथ ही तकनीक का इस्तेमाल भी करना होगा, जो फिलहाल भारत नहीं कर सकता है।