चीन: चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने भाषण दिया

August 4th, 2022

हाईलाइट

  • राजनीतिक चुनौती

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने चीन के थाईवान क्षेत्र की यात्रा की। इस कार्रवाई ने गंभीर रूप से एक चीन सिद्धांत का उल्लंघन किया है, चीन की प्रभुसत्ता को बर्बाद किया है, और खुले तौर पर राजनीतिक चुनौती दी है।

उनकी कार्रवाई से चीनी जनता में बड़ा गुस्सा है, और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने भी इसका व्यापक विरोध प्रकट किया। वास्तविकता ने फिर एक बार इस बात की पुष्टि की कि कुछ अमेरिकी राजनीतिज्ञ चीन-अमेरिका संबंधों में मुसीबतों के निमार्ता बन गये हैं और अमेरिका थाईवान जलडमरूमध्य की शांति व क्षेत्रीय स्थिरता का सबसे बड़ा विध्वंसक बन गया है।

थाईवान चीन का एक हिस्सा है और राष्ट्रीय एकता एक रुझान भी है। हम थाईवान स्वतंत्रता अलगाववादी ताकतों और बाहरी शक्ति को कोई मौका नहीं देंगे। साथ ही, अमेरिका को चीन के विकास और पुनरुत्थान को कमजोर करने की कल्पना नहीं करनी चाहिये। चीन ने अपनी राष्ट्रीय स्थिति के अनुकूल विकास का सही रास्ता ढूंढ़ा है।

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व में 1.4 अरब चीनी जनता चीनी आधुनिकीकरण की ओर से आगे बढ़ रही हैं। चीन अपने देश व राष्ट्र के विकास के आधार पर अन्य देशों के साथ शांतिपूर्ण सहअस्तित्व और समान विकास करना चाहता है। लेकिन किसी देश को चीन की स्थिरता व विकास को बर्बाद करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। थाईवान मामले पर चीन के विकास की रोकथाम करना बिल्कुल बेकार होगा।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.