दैनिक भास्कर हिंदी: अब गिलहरियों पर मंडराया बीमारी का खतरा, अमेरिका में गिलहरियों में मिला संक्रमण, पर्यटन प्रतिबंधित

August 5th, 2021

हाईलाइट

  • अमेरिका पर मंडराया बड़ा खतरा
  • गिलहरियों में मिला गंभीर संक्रमण

डिजिटल डेस्क, कैलिफोर्निया। कैलिफोर्निया में चिपमंक्स यानि कि छोटी गिलहरियां प्लेग बीमारी से संक्रमित पायी गई हैं। राज्य सरकार ने यहां के कुछ इलाकों पर इंसानों के आने जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। जिन स्थानों पर सैलानियों की आवाजाही प्रतिबंधित की गई है उसमें साउथ लेक ताहो के अलावा कीवा बीच और टेलर क्रीक शामिल हैं। 
साउथ लेक ताहो में रूटीन जांच में चूहे, गिलहरियों और ऐसे ही अन्य प्रजातियों के जीवों की जांच की गई है। स्थानीय अखबारों और मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 6 अगस्त से साउथ लेक ताहो, कीवा बीच और टेलर क्रीक को पर्यटकों के लिए बंद किया जाएगा । द ताहो डेली ट्रिब्यून के अनुसार अभी तक प्लेग से इंसानो के संक्रमण की एक भी मामला सामने नहीं आया हैं। 

कैलिफोर्निया डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ के अनुसार कैलिफोर्निया के एल डोराडो काउंटी का साउथ लेक ताहो के हिस्से में प्लेग फैलाने वाला बैक्टीरिया यर्सिनिया पेस्टिस पाया जाता है। पिछले साल ही इंसानों में प्लेग का एक मामला सामने आया है, जो कि पिछले पांच साल में पहला केस था। यूरोप में साल 1300 में प्लेग के कारण ब्लैक डेथ संक्रमण फैला था,  चूंकि आज के समय में प्लेग का इलाज मौजूद होने के कारण इस बीमारी के काफी कम केस सामने आते हैं। 

साल 1300 में प्लेग (Plague) की वजह से यूरोप में ब्लैक डेथ (Black Death) संक्रमण फैला था। आज के समय में भी प्लेग होता है लेकिन बहुत कम मामले सामने आते हैं। सीडसी के रिसर्च के अनुसार अमेरिका में प्लेग के 7 के आसपास केस आते हैं जिसमें सबसे ज्यादा केस उत्तरी एरिजोना, मेक्सिको, दक्षिणी कोलोराडो, कैलिफोर्निया और पश्चिमी नेवादा के सुदूर इलाकों में प्लेग के केस पाएं जाते हैं।  

खबरें और भी हैं...