दैनिक भास्कर हिंदी: Coronavirus in World: 2.57 से ज्यादा मौतें और 37 लाख पार संक्रमितों की संख्या, कोविड-19 वैश्विक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में 7 अरब यूरो जुटाए

May 6th, 2020

हाईलाइट

  • विश्वभर में 37,13,088 लोग संक्रमित हो चुके हैं
  • दुनिया में 49,329 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन/बीजिंग। कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया पर जारी है। इस वायरस के कारण अब तक दुनिया में 2.57 लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है और 37 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस वायरस का सबसे ज्यादा प्रभाव अमेरिका पर पड़ा है। यहां अब तक 12 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 71 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कोविड-19 वैश्विक प्रतिक्रिया अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन ऑनलाइन आयोजित हुआ, जिसका लक्ष्य दुनिया भर में कोविड-19 के टीके, उपचार और परीक्षण को बढ़ावा देना है। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस अधानोम घेब्रेयसस ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक प्रतिक्रिया अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में लगभग 7 अरब 40 करोड़ यूरो जुटाए गए।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस अधानोम घेब्रेयसस ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक प्रतिक्रिया अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में लगभग 7 अरब 40 करोड़ यूरो जुटाए गए। https://www.worldometers.info/coronavirus/ वेबसाइट के अनुसार बुधवार सुबह 4 बजे तक विश्वभर में 37,13,088 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 2,57,089 लोग संक्रमण से मारे जा चुके हैं और 12,35,504 स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए हैं। वहीं 22,20,495 लोग अस्पतालों में कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। इनमें से 49,329 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार भारत में मंगलवार शाम 5 बजे तक संक्रमित लोगों की संख्या 46,711 हो गई है, जबकि मरने वालों की संख्या 1,583 पहुंच गई है। इसके अलावा 13,161 लोग स्वस्थ हुए हैं और 31,967 लोग कोरोना के कारण अस्पतालों में भर्ती हैं।

यूरोपीय संघ स्थित चीनी प्रतिनिधिमंडल के अध्यक्ष चांग मिंग ने वीडियो संदेश भेजकर कहा कि चीन अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का एक जिम्मेदार सदस्य है। हालांकि चीन की स्वयं की महामारी की रोकथाम का कार्य अब भी कठिन है, फिर भी जरूरतमंद देशों को सहायता प्रदान करने की पूरी कोशिश कर रहा है। चीन हमेशा की तरह, महामारी के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को समन्वित करने में केंद्रीय भूमिका निभाने के लिए डब्ल्यूएचओ का समर्थन करेगा।उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से विकासशील देशों को सहायता देने, त्रिपक्षीय और बहुपक्षीय सहयोग सहयोग को मजबूत करने की अपील भी की।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ऑनलाइन सम्मेलन में मानव जाति की एकता पर जोर दिया और कहा कि इस वायरस को हराने के लिए एक वैक्सीन खोजने की दौड़ देशों के बीच प्रतिस्पर्धा नहीं है, बल्कि हमारे जीवन में सबसे जरूरी कार्य है।

एकता ही कोविड-19 का रामबाण है : डब्ल्यूएचओ
डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस अधनोम घेब्रेयसस ने पूरी दुनिया से एकजुट होकर कोविड-19 को पराजित करने का आह्वान किया। उन्होंने जोर दिया कि एकता ही कोविड-19 का रामबाण है। ट्रेडोस ने कहा कि कोविड-19 पूरी दुनिया के लिए चेतावनी है, साथ ही दुनिया द्वारा एक समान भविष्य रचने का अच्छा मौका भी। उन्होंने यूरोपीय आयोग द्वारा आयोजित कोविड-19 वैश्विक प्रतिक्रिया के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में 7.4 अरब यूरो का चंदा इकट्ठा करने की सराहना की। उन्होंने विश्व से कोविड-19 को पराजित करने के उपायों की खोज करने की अपील की। उनके मुताबिक, हरेक आदमी की रक्षा की जानी चाहिए।

ब्रिटेन में 29, 427 की मौत
ब्रिटेन में बीते 24 घंटे में 693 लोगों की मौत हुई है। ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब ने इसकी जानकारी देते हुए बताया है कि कोरोना से अब तक देश भर में 29,427 लोगों की मौत हो चुकी है। मंगलवार से पहले तक कोरोना वायरस से होने वाली मौतों के लिहाज से इटली दूसरे पायदान पर था। इटली में अब तक कोरोना वायरस से 29,315 लोगों की मौत हुई है। ब्रिटेन में अब तक 29,427 लोगों की मौत के साथ दूसरे पायदान पर पहुंच चुकी है। अमरीका 69 हज़ार से ज़्यादा मौतों के साथ इस सूची में पहले पायदान पर हैं।

 

खबरें और भी हैं...