comScore

Coronavirus: ब्रिटेन में एक हफ्ते के अंदर मिला कोरोना का ‘और ज्यादा संक्रामक’ दूसरा नया स्ट्रेन, दक्षिण अफ्रीका की उड़ानों पर लगाई रोक


हाईलाइट

  • UK में कोरोना के एक और नए स्ट्रेन से हड़कंप
  • दक्षिण अफ्रीका की उड़ानों पर लगाई गई रोक
  • ब्रिटेन के स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक का खुलासा

डिजिटल डेस्क, लंदन। ब्रिटेन में एक हफ्ते के अंदर कोरोना के एक और नए स्ट्रेन का पता चला है, जो और अधिक संक्रामक लगता है। ब्रिटेन के स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने बुधवार को यह घोषणा की। एक प्रेस ब्रीफिंग में जहां उन्होंने दक्षिण और पूर्व इंग्लैंड में और प्रतिबंधों को रेखांकित किया, वहीं हैनकॉक ने यह भी कहा कि ब्रिटेन में नए संस्करण के दो मामले हैं, जो दक्षिण अफ्रीका से आए यात्रियों में पाए गए। इसके बाद पिछले दो हफ्ते में दक्षिण अफ्रीका से आने वाले सभी लोगों को खुद को आइसोलेट करने के लिए कहा गया है। पिछला स्ट्रेन सामने आने के बाद भारत समेत कई देशों ने ब्रिटेन की फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है।

बीबीसी ने बताया, यह वायरस अभी और अधिक संक्रामक है और ऐसा प्रतीत होता है कि नए वायरस से आगे उत्परिवर्तित हो गया है।

मालूम हो कि कोरोना के नए वेरिएंट ने ब्रिटेन में जैसे नुकसान पहुंचाया है, वैसे ही यह दक्षिण अफ्रीका में भी बीमारी को तेजी से फैला रहा है। एक्सपर्ट के मुताबिक शायद इसीलिए देश को कोरोना की दूसरी बड़ी दूसरी लहर का सामना करना पड़ रहा है। कहा तो यहां तक गया कि कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन, पहले के वायरस के मुकाबले 70 फीसदी अधिक तेजी से फैलता है। 

वहीं, दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य विभाग ने पिछले हफ्ते ही कहा था कि वायरस का एक नया जेनेटिक म्यूटेशन पाया गया है और हो सकता है कि हाल ही में संक्रमण में वृद्धि के लिए यही जिम्मेदार हो। दरअसल, ब्रिटेन ने ऐलान किया है कि उसे कोविड-19 का नया वेरिएंट मिला है और ये नया स्ट्रेन भी बेहद संक्रामक है।

ब्रिटेन ने सेल्फ टेस्ट किट को मंजूरी दी
इस बीच, ब्रिटेन ने अपने यहां सेल्फ टेस्ट किट को मंजूरी दे दी है। मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी ने बताया कि इस किट से एंटीजन लेटरल फ्लो टेस्ट होता है, जिसका रिजल्ट 30 मिनट में मिल जाता है। इस किट को बुधवार को अप्रूवल दिया गया। इससे कोरोना के मामले पता करने में आसानी होगी। ब्रिटेन में अब तक 21 लाख 49 हजार 551 मरीज मिल चुके हैं। बीते 24 घंटे में ही यहां 39 हजार 237 मामले सामने आए। देश में कुल 69 हजार 51 मरीज कोरोना से दम तोड़ चुके हैं।

मरीजों की संख्या आठ करोड़ के करीब
दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7.86 करोड़ से ज्यादा हो गया है। 5 करोड़ 52 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 17 लाख 28 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।
 

कमेंट करें
hrpxt