दैनिक भास्कर हिंदी: 12 से 17 साल के बच्चों को भी लगेगी मॉडर्ना की कोरोनावायरस वैक्सीन, यूरोपियन मेडिसिन्स एजेंसी की मंजूरी

July 24th, 2021

हाईलाइट

  • 12 से 17 साल के बच्चों के लिए मॉडर्ना की कोरोनावायरस वैक्सीन को मंजूरी
  • चार सप्ताह के अंतराल पर इस वैक्सीन की दो डोज दी जाएगी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। यूरोपियन मेडिसिन्स एजेंसी ने शुक्रवार को 12 से 17 साल के बच्चों के लिए मॉडर्ना की कोरोनावायरस वैक्सीन स्पाइकवैक्स के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी। चार सप्ताह के अंतराल पर इस वैक्सीन की दो डोज दी जाएगी। 

यूरोपियन मेडिसिन्स एजेंसी ने कहा कि 12 से 17 वर्ष की आयु के 3,732 बच्चों में स्पाइकवैक्स के प्रभावों की स्टडी की गई है। स्टडी से पता चला है कि स्पाइकवैक्स ने 12 से 17 साल के बच्चों में एक कॉम्पेरेबल एंटीबॉडी रिस्पॉन्स प्रड्यूज किया, जो कि 18 से 25 वर्ष की आयु के युवा वयस्कों में देखा गया था। इससे पहले मई में एम्स्टर्डम स्थित एजेंसी ने फाइजर/बायोएनटेक की कोरोना वैक्सीन को इस एज ग्रुप के लिए मंजूरी दी थी।

फाइजर और मॉडर्ना दोनों ने 6 महीने के बच्चों में भी परीक्षण शुरू कर दिया है। यूरोपीय संघ के दवा नियामक ने कहा कि वह बच्चों में मॉडर्ना वैक्सीन की सुरक्षा और प्रभावकारिता की निगरानी करना जारी रखेगा क्योंकि इसका उपयोग यूरोपीय सदस्य देशों में किया जाता है।

खबरें और भी हैं...