First India-Taliban meet: भारत-तालिबान की पहली बैठक दोहा में हुई, भारतीय नागरिकों की सुरक्षा पर हुई चर्चा

August 31st, 2021

हाईलाइट

  • कतर में भारतीय राजदूत दीपक मित्तल ने तालिबान से मुलाकात की
  • अफगानिस्तान में फंसे भारतीय नागरिकों की सुरक्षा और जल्द वापसी पर चर्चा की गई

डिजिटल डेस्क, काबुल। कतर में भारतीय राजदूत दीपक मित्तल ने मंगलवार को दोहा में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के प्रमुख शेर मोहम्मद अब्बास स्टेनकजई से मुलाकात की। इस दौरान अफगानिस्तान में फंसे भारतीय नागरिकों की सुरक्षा और जल्द वापसी पर चर्चा की गई। आधिकारिक बयान में कहा गया है कि तालिबान पक्ष के अनुरोध पर भारतीय दूतावास, दोहा में ये बैठक हुई।

यान में कहा गया है, 'अफगानिस्तान में फंसे भारतीय नागरिकों की सुरक्षित और जल्द वापसी पर चर्चा हुई। इसके अलावा उन अफगान नागरिकों, विशेष रूप से अल्पसंख्यकों पर चर्चा हुई जो भारत आने चाहते हैं।' भारतीय राजदूत ने भारत की चिंता जताई कि अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल किसी भी तरह से भारत विरोधी गतिविधियों और आतंकवाद के लिए नहीं किया जाना चाहिए। बयान में कहा गया है कि तालिबान के प्रतिनिधि ने राजदूत को आश्वासन दिया कि इन मुद्दों को सकारात्मक रूप से संबोधित किया जाएगा।