comScore

बौद्ध स्तूप का अपमान करने पर इंडियन टूरिस्ट गिरफ्तार

बौद्ध स्तूप का अपमान करने पर इंडियन टूरिस्ट गिरफ्तार

हाईलाइट

  • भारतीय पर्यटक को बौद्ध स्तूप का अपमान करने पर भूटान पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • बौद्ध स्तूप पर चढ़कर खिंचवा रहा था तस्वीर, जमकर हुआ ट्रोल
  • बाद में माफी मांगी तो पुलिस ने छोड़ भी दिया

डिजिटल डेस्क, थिम्पू। भूटान घूमने गए एक भारतीय पर्यटक को बौद्ध स्तूप पर तस्वीर खिंचवाना महंगा पड़ गया। महाराष्ट्र का रहने वाला अभिजीत रतन हजारे एक ग्रुप के साथ भूटान की यात्रा में था। जिसने यात्रा के दौरान गुरूवार को भूटान के दोलूचा में नेश्नल मेमोरियल चोर्टन (बौद्ध स्तूप) पर चढ़कर तस्वीरें खिंचवाई थी। इसके बाद से ही अभिजीत को सोशल मीडिया में जमकर ट्रोल किया जा रहा है। साथ ही उसे इस शर्मनाक हरकत के कारण स्थानीय लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई। जिसके बाद भूटान पुलिस द्वारा उसे हिरासत में ले लिया गया। हालांकि जब उसने अपनी नासमझी के लिए मांफी मांगी तो उसे छोड़ भी दिया गया।

'द भूटानीज' के मुताबिक अभिजीत, 15 बाइक के एक काफिले का हिस्सा था। जिसका नेतृत्व एक भूटानी कर रहा था। यह घटना तब हुई जब सभी बाइकर्स दोचूला में आराम कर रहे थे और ग्रुप का नेतृत्व करने वाला भूटानी बाइक के लिए पार्किंग की व्यवस्था कर रहा था। जो इस घटना से अनजान था।

अभिजीत की इस शर्मनाक हरकत के लिए रॉयल भूटान पुलिस (RBP) ने उसे बुलाकर उसका पासपोर्ट जब्त कर मामले की जांच शुरू कर दी थी।

हालांकि अभिजीत ने अपनी गलती स्वीकारते हुए अपने दुराचरण के लिए माफी मांगी जिसके बाद उसे छोड़ दिया गया। क्योंकि अभिजीत पर दण्ड संहिता के तहत किसी भी कानूनी धारा लगाने से पहले उसे स्तूप को नष्ट करना होता या फिर क्षतिग्रस्त करना होता। जबकि अभिजीत ने स्तूप पर चढ़कर फोटो खिंचवाई थी, जिसके लिए उसने माफी भी मांगी।

कमेंट करें
KMWrT