दैनिक भास्कर हिंदी: मालदीव के विदेश मंत्री भारत के दौरे पर, कई मुद्दों पर होगी बात

November 26th, 2018

हाईलाइट

  • मालदीव के विदेश मंत्री भारत के दौरे पर
  • बातचीत में पीएम मोदी हो सकते हैं शामिल
  • मालदीव की आर्थिक स्थिति खराब, भारत से मदद की आस

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत और मालदीव के संबंधों को मजबूत करने के मकसद से मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद भारत के दौरे पर हैं। शाहिद अपने चार दिवसीय दौरे के दौरान सोमवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात करेंगे। वहीं भारत और मालदीव के बीच कई मसलों पर समझौता हो सकता है।

भारत से मदद की आस
मालदीव के विदेश मंत्री ने चीनी कर्ज पर पूछे गए सवाल पर चिंता जताते हुए कहा कि देश की नई सरकार अभी पूरे डेटा का अध्ययन कर रही है। शाहिद ने कहा कि हमे उम्मीद है कि हमारी किसी भी तरह की परेशानी भारत उदार रुख अपनाते हुए हमारी मदद करेगा। 

पीएम मोदी हो सकते हैं शामिल
मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला ने कहा कि हम जिन मूलभूत जरूरतों को लेकर चिंतित हैं उनमें ताजे पानी की कमी, सीवरेज और हेल्थ सेक्टर जैसे मसले हैं, उनमें भारत पूरी तरह से हमारी मदद कर सकता है। इन सभी मुद्दों पर सोमवार को शाहिद सुषमा स्वराज से बात करेंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि इस बातचीत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हो सकते हैं।

मालदीव की आर्थिक स्थिति खराब
मालदीव के नए राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सालेह की भारत के समर्थक माने जाते हैं। उनके शपथ ग्रहण समारोह में पीएम मोदी शामिल भी हुए थे। मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद का दावा है कि देश पर चीन का कर्ज 3.2 अरब डॉलर (करीब 22,611 करोड़ रुपये) है। इसपर मालदीव के नए राष्ट्रपति ने चिंता जाहिर की है, उन्होने कहा कि देश की आर्थिक स्थिति उम्मीद से भी बदतर हो चुकी है। वहीं चीन ने इन दावों को खारिज कर दिया है, चीन का कहना है कि मालदीव पर उसका कर्ज 1.5 अरब डॉलर का कर्ज है। 

 

 

खबरें और भी हैं...