comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

द्विपक्षीय बैठक के बाद बोले ट्रंप, पीएम मोदी इस्लामिक आतंकवाद से निपटने में सक्षम


हाईलाइट

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने न्यूयॉर्क में द्विपक्षीय बैठक की
  • डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि पीएम मोदी इस्लामिक आतंकवाद से निपटने में सक्षम है
  • अमेरिका के साथ भारत 60 बिलियन डॉलर की डील भी करने जा रहा है

डिजिटल डेस्क, न्यूयॉर्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को न्यूयॉर्क में द्विपक्षीय बैठक की। बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि पीएम मोदी इस्लामिक आतंकवाद से निपटने में सक्षम है। उन्होंने पीएम मोदी को भारत के पिता की तरह बताया। इतना ही नहीं ट्रंप ने पीएम मोदी को रॉकस्टार एलविस प्रेस्ली की तरह लोकप्रिय बताया। अमेरिका के साथ भारत की 60 बिलियन डॉलर की ट्रेड डील भी होने जा रही है। ।

ट्रंप ने कहा, 'हम बहुत अच्छा कर रहे हैं ... मुझे लगता है कि बहुत जल्द हम एक ट्रेड डील करेंगे। जब डोनाल्ड ट्रंप से पूछा गया कि 'आप पाकिस्तानी पीएम के उस बयान को कैसे देखते हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि आईएसआई अलकायदा को प्रशिक्षित करता है? अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा 'मैंने ऐसा कोई बयान नहीं सुना है, लेकिन अगर ऐसा है तो प्रधानमंत्री (पीएम मोदी) इस मामले को देख लेंगे।'

ट्रंप ने कहा, 'पीएम मोदी एक सज्जन और महान नेता हैं। मुझे याद है भारत पहले बिखरा हुआ था। वहां बहुत विरोधाभास, लड़ाइयां थीं, लेकिन मोदी सबको साथ लाए। एक पिता की तरह वे सबको साथ लाए। हो सकता है कि वह भारत के पिता हैं। हम उन्हें भारत का पिता कहेंगे।' ट्रंप ने पीएम मोदी की लोकप्रियता की तुलना रॉकस्टार एलविस प्रेस्ली के साथ की।

कश्मीर और आतंकवाद के मामले को लेकर ट्रंप ने कहा, 'पाक प्रधानमंत्री के साथ मेरी लंबी बैठक हुई थी। इस बैठक में कई मुद्दों पर बातचीत हुई। जहां तक आतंकवाद की बात है तो इमरान भी शांतिपूर्ण और फलदायक नतीजे चाहते हैं। मुझे विश्वास है कि ये दोनों (मोदी-इमरान) मिलेंगे और कुछ रास्ता निकालेंगे। जब प्रधानमंत्री मोदी और प्रधानमंत्री इमरान एक-दूसरे को जानेंगे तो इसके अच्छे नतीजे निकलेंगे।' 

पीएम मोदी ने कहा, 'मैं इस बात से खुश हूं कि अमेरिका के साथ एनर्जी सेक्टर में 2.5 अरब यूएस डॉलर के निवेश के एमओयू साइन किए गए हैं। इससे आने वाले दिनों में 60 मिलियन डॉलर का व्यापार होगा और 50 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। पीएम ने कहा 'मैं राष्ट्रपति ट्रम्प का बहुत आभारी हूं कि वह ह्यूस्टन आए और अपना बहुत समय दिया। यह अमेरिका में रहने वाले भारतीयों के लिए बहुत गर्व का क्षण था। मैं इसके लिए राष्ट्रपति ट्रंप का हार्दिक आभार व्यक्त करता हूं।' पीएम ने कहा कि 'भारत और अमेरिका बहुत घनिष्ठ मित्र है। मूल्यों के आधार पर हमार मित्रता आगे बढ़ रही है।' उन्होंने कहा 'ट्रंप मेरे तो अच्छे मित्र हैं ही वह भारत के भी बहुत अच्छे मित्र हैं।'

कमेंट करें
Ludcf