दैनिक भास्कर हिंदी: एनबीए के बोर्ड अध्यक्ष एडम सिल्वर को चीन की नसीहत

October 9th, 2019

बीजिंग, 9 अक्टूबर (आईएएनएस)। हाल ही में एनबीए की ह्यूस्टन रॉकेट टीम के जनरल मैनेजर दारिल मोरे ने अपने ट्विटर पर एक फोटो अपलोड किया, जिसमें हांगकांग के हिंसकों का नारा दिख रहा है। लेकिन उसने अपने गलत बयान के लिए माफी नहीं मांगी।

एनबीए ने इस कदम पर दारिल मोरे को दंड नहीं दिया। इसके बाद एनबीए के बोर्ड अध्यक्ष एडम सिल्वर ने सार्वजनिक रूप से बोलने की स्वतंत्रता के अधिकार के लिए दारिल मोरे का समर्थन किया। आठ अक्टूबर को चाइना मीडिया ग्रुप(सीएमजी) के सीसीटीवी खेल चैनल ने फिर एक बार बयान जारी कर अस्थाई तौर पर एनबीए प्रतियोगिता का प्रसारण स्थगित कर दिया।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने इस पर स्पष्ट रूप से कहा कि चीन के साथ सहयोग और आदान-प्रदान करने में चीन की सार्वजनिक राय को नहीं समझते हैं, तो यह काम नहीं करेगा।

भाषण की तथाकथित स्वतंत्रता कभी निरपेक्ष नहीं रही है, राष्ट्रीय संप्रभुता और सामाजिक स्थिरता को चुनौती देने वाले कोई भी भाषण बोलने की स्वतंत्रता के दायरे में नहीं है। एडम सिल्वर और दारिल मोरे की गलत बयानी से उनका खराब उद्देश्य, घमंड और पाखंड झलकता है।

दारिल मोरे के गलत भाषण चीन की संप्रभुता और राष्ट्रीय गरिमा का सम्मान नहीं करते हैं। एडम सिल्वर के रवैये से समानता का इशारा नहीं दिखाया गया। उनके भाषण और कदम एनबीए के मूल्यों को बनाए नहीं रखते हैं। वह एनबीए मूल्यों का विघटन करता है। हम एडम सिल्वर को फिर से याद दिलाएं कि जानबूझकर राष्ट्रीय संप्रभुता और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को भ्रमित न करें, राष्ट्रीय संप्रभुता के मुद्दे पर, चीनी लोग कतई रियायत नहीं करेंगे और पीछे नहीं हटेंगे।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)