रूस-यूक्रेन तनाव: ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता वासिली लोमाचेंको यूक्रेन सेना में शामिल हुए

March 1st, 2022

हाईलाइट

  • दुनिया के शीर्ष मुक्केबाजों में शुमार है लोमाचेंको

डिजिटल डेस्क, लंदन। दो बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता मुक्केबाज वासिली लोमाचेंको रूसी आक्रमण के बाद यूक्रेन की सेना में शामिल हो गए हैं। लोमाचेंको को दुनिया के शीर्ष मुक्केबाजों में से एक माना जाता है, उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट की जिसमें वह एक सैन्य वर्दी पहने हुए दिखाई दे रहे हैं और जाहिर तौर पर इस रविवार को युद्ध क्षेत्र में प्रवेश करने के लिए तैयार हैं।

ईएसपीएन की एक रिपोर्ट के अनुसार, 2008 और 2012 के ओलंपिक खेलों में ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने वाले लोमाचेंको हाल ही में अपने परिवार के साथ रहने के लिए ओडेसा के पास अपने घर लौटे हैं। टॉक स्पोर्ट डॉट कॉम के ऑनलाइन बॉक्सिंग संपादक माइकल बेन्सन ने यूक्रेनी सेना की जर्सी पहने हुए लोमाचेंको की एक तस्वीर भी पोस्ट की।

लोमाचेंको एकमात्र प्रसिद्ध यूक्रेनी मुक्केबाज है जो अपने देश के सशस्त्र बलों में शामिल हो गए है, क्योंकि भाइयों व्लादिमीर और विटाली क्लिट्स्को ने भी इस संघर्ष में लड़ने का फैसला किया है। हॉल ऑफ फेमर बॉक्सर क्लिट्स्को, जो अब यूक्रेनी राजधानी कीव के मेयर हैं, ने हाल ही में घोषणा की कि वह अपने देश की रक्षा में सहायता करेंगे। उनके भाई, साथी हॉल ऑफ फेमर और पूर्व हैवीवेट चैंपियन व्लादिमीर भी इस महीने की शुरुआत में देश की रिजर्व सेना में शामिल हुए।

क्लिट्स्को ने गुड मॉनिर्ंग ब्रिटेन से कहा, मेरे पास दूसरा विकल्प नहीं है, मुझे अपने देश को बचाने के लिए लड़ना होगा। डब्ल्यूबीसी यूक्रेन के अध्यक्ष निकोले कोवलचुक ने व्यक्त किया कि उन्हें उन मुक्केबाजों पर कितना गर्व है, जिन्होंने देश की रक्षा के लिए अपने फैसले को चुना है।

कोवलचुक ने कोपिंगर के हवाले से कहा, हमें अपने मुक्केबाजों, मुक्केबाजी में हमारे असली चैंपियन और इस युद्ध में चैंपियन पर बहुत गर्व है। हमें यूक्रेनियन होने पर गर्व है। लोमाचेंको अपना करियर शुरू करने से पहले दो बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता थे। उन्होंने बीजिंग 2008 और लंदन 2012 सीजन में पूर्व में फेदरवेट में और बाद में लाइटवेट में स्वर्ण पदक जीता। अपने पेशेवर करियर में, लोमाचेंको के नाम 16 जीत (नॉकआउट से 11) और 18 मुकाबलों में दो हार का रिकॉर्ड है।

 

(आईएएनएस)