दैनिक भास्कर हिंदी: Covid-19 vaccine Trial: ऑक्सफोर्ड की COVID-19 वैक्सीन का ट्रायल फिर से शुरू, मेडिसिन हेल्थ रेगुलेटरी अथॉरिटी से मंजूरी

September 13th, 2020

हाईलाइट

  • ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल फिर से शुरू
  • वैक्सीन का एक शख्‍स पर रिएक्‍शन होने के बाद रोका गया था ट्रायल
  • ऑक्‍सफर्ड की वैक्‍सीन दुनिया की सबसे ऐडवांस्‍ड कोविड-19 वैक्‍सीन है

डिजिटल डेस्क, लंदन। फार्मा कंपनी अस्‍त्राजेनेका (AstraZeneca) ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोविड-19 वैक्सीन के ब्रिटिश क्लीनिकल ट्रायल को फिर से शुरू कर दिया है। शनिवार को इसकी घोषणा की गई। कुछ दिन पहले ब्रिटेन में इस वैक्सीन का एक शख्‍स पर रिएक्‍शन होने के बाद अस्‍त्राजेनेका ने ट्रायल रोकने की घोषणा की थी। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने अपने बयान में कहा, 'इंडिपेंडेंट रिव्यू प्रोसेस में मेडिसिन हेल्थ रेगुलेटरी अथॉरिटी से मंजूरी मिलने के बाद दोबारा ट्रायल शुरू करने का फैसला लिया गया है।' बता दें कि ऑक्‍सफर्ड की वैक्‍सीन दुनिया की सबसे ऐडवांस्‍ड कोविड-19 वैक्‍सीन है।

भारत में भी ट्रायल पर रोक लगा दी गई थी
इससे पहले अस्‍त्राजेनेका के ट्रायल रोकने की घोषणा के बाद भारत में भी इसके ट्रायल पर रोक लगा दी गई थी। दरअसल ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने SII को नोटिस भेजा था। SII ने इस नोटिस के बाद गुरुवार को औपचारिक बयान जारी कर कहा' हम हालात की समीक्षा कर रहे हैं और जब तक एस्ट्राजेनेका (astrazeneca) दोबारा ट्रायल शुरू नहीं करती तब तक भारत में हो रहे ट्रायल को रोक रहे हैं। हम ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के निर्देशों का पालन कर रहे हैं और आगे ट्रायल के ऊपर टिप्पणी नहीं करेंगे। आगे की अपडेट के लिए आप ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से बात कर सकते हैं।

पुणे की फर्म वैक्सीन बनाने के लिए अनुबंधित
दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता पुणे फर्म को अस्‍त्राजेनेका और ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी ने निम्न और मध्यम आय वाले देशों के लिए वैक्सीन बनाने के लिए अनुबंधित किया है। विश्व स्तर पर AZD1222 कैंडिडेट का फेज 2/3 ट्रायल मई के अंत से यूके में चल रहा है। 3 सितंबर को, एस्ट्राजेनेका ने घोषणा की कि संयुक्त राज्य अमेरिका में फेज 3 ट्रायल के लिए सेंटर 30,000 पार्टिसिपेंट की भर्ती कर रहे हैं। ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका में भी लेट स्टेज ट्रायल जारी है और जापान और रूस में कंपनी ने जल्दी-से-मिड-स्टेज ट्रायल की योजना बनाई है।

जानिए कोविड-19 को कौनसी वैक्सीन किस फेज में?

covid19-tracker