सुरक्षा परिषद : सीएआर में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के आदेश का नवीनीकरण

November 13th, 2021

हाईलाइट

  • शांति मिशन को मिनुस्का नाम से जाना जाता है

डिजिटल डेस्क, संयुक्त राष्ट्र। सुरक्षा परिषद ने मध्य अफ्रीकी गणराज्य (सीएआर) में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के जनादेश को अगले 12 महीनों के लिए 15 नवंबर, 2022 तक बढ़ाने के लिए एक प्रस्ताव अपनाया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार संकल्प 2605 यह भी तय करता है कि शांति मिशन, जिसे मिनुस्का के नाम से जाना जाता है। अपने मौजूदा कर्मियों के स्तर को बनाए रखेगा जिसमें 14,400 सैनिक और 3,020 पुलिस अधिकारी होंगे।

इस प्रस्ताव को सुरक्षा परिषद के 15 सदस्यों में से 13 की मंजूरी मिली। चीन और रूस ने इस आधार पर भाग नहीं लिया कि सीएआर सरकार के विचार मसौदे में पर्याप्त रूप से प्रतिबिंबित नहीं थे।

संकल्प 2605 यह तय करता है कि मिनुस्कास के जनादेश को शांति और सुलह पर 2019 के राजनीतिक समझौते के कार्यान्वयन और खतरे के उन्मूलन के माध्यम से राष्ट्रीय सुलह और टिकाऊ शांति के लिए अनुकूल राजनीतिक, सुरक्षा और संस्थागत परिस्थितियों को बनाने के लिए एक बहु-वर्षीय रणनीतिक दृष्टि को आगे बढ़ाने के लिए डिजाइन किया गया है। शांति स्थापना के मूल सिद्धांतों पर प्रतिकूल प्रभाव डाले बिना एक व्यापक दृष्टिकोण और सक्रिय और मजबूत मुद्रा के माध्यम से सशस्त्र समूहों द्वारा प्रस्तुत किया गया।

संकल्प ने मिनुस्का को अपनी क्षमताओं और तैनाती के क्षेत्रों के भीतर अपने जनादेश को पूरा करने के लिए सभी आवश्यक साधन लेने के लिए अधिकृत किया है। शांति स्थापना मिशन को सीएआर में मानवाधिकारों को बढ़ावा देने और उनकी रक्षा करने का भी काम सौंपा गया है। राज्य प्राधिकरण के विस्तार, सुरक्षा बलों की तैनाती और क्षेत्रीय अखंडता के संरक्षण के लिए सहायता प्रदान करना है।

 

(आईएएनएस)