रूस- यूक्रेन युद्ध: रूस की बमबारी का शिकार हुए ग्रीस के नागरिक, 10 की मौत

February 27th, 2022

हाईलाइट

  • खारकीव में गैस पाइपलाइन बम धमाके से उड़ाई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रूस और यूक्रेन के बीच जंग का आज (27 फरवरी, 2022) चौथा दिन है। यूक्रेन की राजधानी में दोनों देशों के बीच संघर्ष तेज नजर आ रहा है। जहां रूस आक्रामक दिखाई दे रहा है और वह यूक्रेन पर लगातार हमले कर रहा है। रूस और यूक्रेन के युद्ध के बीच अब यूक्रेन के उप रक्षा मंत्री ने बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि, आक्रमण शुरू होने के बाद से रूस ने लगभग 4,300 सैनिक और 146 टैंक खो दिए हैं।

आपको बता दें कि, अब रूस की सेना खारकीव में घुस गई है और अब कब्जे की तैयारी में हैं। रिपोर्ट के अनुसार, रूस की सेना ने खारकीव में घुसने के दौरान यूक्रेनी फौजों के साथ झड़प भी हुई है। यूक्रेन के अधिकारियों का कहना है कि रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव में प्रवेश कर लिया है।

ग्रीस के 10 नागरिक मारे गए
यूक्रेन-रूस के बीच चल रहे इस युद्ध में ग्रीस के नागरिकों को भी अपनी जान गंवानी पड़ी है। यूक्रेन के शहर मारियुपोल के पास रूस द्वारा की गई बमबारी के शिकार ग्रीस के 10 लोग हुए। जिनकी मौत हो गई, जबकि 6 लोग घायल हो गए।

ग्रीस के प्रधान मंत्री क्यारीकोस मित्सोटाकिस ने एक ट्वीट में कहा कि हमारे 10 निर्दोष लोग नागरिक मारियुपोल के पास हुए रूसी हवाई हमलों में मारे गए हैं। अब इस बमबारी को बंद कर देना चाहिए।

सांसों पर संकट के बादल
यूक्रेन की राजधानी कीव में दहशत का माहौल है। हालत यह है कि, यहां लगातार खतरे की घंटी बजने लगी है। अलर्ट में कहा गया है कि, लोग सुरक्षित स्थानों पर रहें और बहुत जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकलें। इसके अलावा वे अपने घर की खिड़कियों से भी दूर रहें।

बता दें कि, इससे पहले रविवार की सुबह रूसी सैनिकों ने यूक्रेन पर एक बड़ा हमला किया है। जिसमें राजधानी कीव से 40 किलोमीटर दूर वासिलकीव ऑयल टर्मिनल को मिसाइल से निशाना बनाया है। रूसी सेना ने देश के दूसरे सबसे बड़े शहर खार्किव में गैस पाइपलाइन को उड़ा दिया। 

इस हमले के बाद उठा गुबार सार इलाके में फैल गया है। राजधानी कीव में जहरीली हवा की चेतावनी दी गई। यहां लोगों को सांस लेने में समस्या उत्पन्न हो गई है। ऐसे में यहां के लोगों को मुंह पर कंपड़े से ढकने और घर की खिड़कियोंं को बंद करने की सलाह दी गई है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा कि रूस की सेना ने देश के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव में एक गैस पाइपलाइन बम धमाके से उड़ा दी। स्टेट सर्विस ऑफ स्पेशल कम्युनिकेशन एंड इंफॉर्मेशन प्रोटेक्श’ ने आगाह किया कि इस विस्फोट से ‘‘पर्यावरणीय आपदा’’ आ सकती है और उन्होंने निवासियों को सलाह दी कि वे अपनी खिड़कियों को गीले कपड़ों से ढक दें और काफी तरल पदार्थ पीएं।

उन्होंने कहा कि, यह विस्फोट मशरूम के बादल की तरह लग रहा था। यूक्रेन की शीर्ष अभियोजक इरिना वेनेदिकतोवा ने कहा कि रूसी सेना खारकीव पर कब्जा नहीं कर पाई है और वहां भीषण लड़ाई चल रही है। करीब 15 लाख लोगों की आबादी वाला यह शहर रूसी सीमा से 40 किलोमीटर की दूरी पर है। हालांकि, इस बीच यूक्रेन का दावा है कि उसने एक रूसी टुकड़ी को तबाह कर दिया है।

240 नागरिक मारे गए
यूक्रेन के मीडिया ने वासिलकीव हमले की जगह पर आग की लपटों और काले बादलों को आसमान में उड़ने की फुटेज साझा की हैं। संयुक्त राष्ट्र ने रविवार को पहला आधिकारिक मौत का आंकड़ा जारी करते हुए कहा कि संघर्ष में अब तक कम से कम 240 नागरिक मारे गए हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार की रात एक अज्ञात महिला संघर्ष का नया शिकार बन गई, जब एक रूसी तोपखाने के गोले ने खारकीव में 9 मंजिला आवासीय अपार्टमेंट ब्लॉक को मारा, जिससे अंदर वह अंदर बैठी थी।

कई देशों ने मदद भेजना शुरू की
यूक्रेन में रूस द्वारा किए जा रहे ताबरतोड़ हमलों के बाद भी यूक्रेन डट कर खड़ा हुआ है। कई जगहों पर हालात खराब होने के बावजूद नागरिकों ने अपने देश को बचाने के लिए हथियार उठा लिए हैं। वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दिमीर जेलेंस्की का कहना है की कीव अभी यूक्रेन के नियंत्रण में हैं।

इसी बीच अब विश्व के कई देश यूक्रेन की मदद के लिए आगे आए हैं। अमेरिका, ब्रिटेन सहित 28 देशों ने यूक्रेन को अत्याधुनिक हथियार भेजे जाने पर सहमति जताई है। अब तक कई देशों ने यूक्रेन को आर्थिक मदद और हथियार भेजे हैं। वहीं इन देशों के द्वारा मेडिकल सप्लाई और अन्य मिलिट्री संसाधन देने का वादा भी किया गया है।

जेलेंस्की ने कहा कि दुश्मन को मुंहतोड़ जबाव दिया
यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि यूक्रेन ने दुश्मन के हमलों का मुंहतोड़ जबाव दिया है, लेकिन देशभर में लड़ाई जारी है। जेलेंस्की ने शनिवार को एक वीडियो संदेश में कहा, हम दुश्मन के हमलों का सामना सफलतापूर्वक कर रहे हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, राष्ट्रपति ने कहा कि यूक्रेन के कई शहरों और जिलों में अभी लड़ाई जारी है। हम जानते हैं कि हम देश, जमीन, बच्चों के भविष्य की रक्षा कर रहे हैं।

975 सैन्य बुनियादी ढांचे को नष्ट किया
रूस के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेनकोव ने रविवार को कहा कि रूसी सशस्त्र बलों ने यूक्रेन के 975 सैन्य बुनियादी ढांचे को नष्ट कर दिया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने इगोर कोनाशेनकोव के हवाले से बताया कि कुल 471 यूक्रेनी सैनिकों को हिरासत में लिया गया है और कागजी कार्रवाई के बाद उनके परिवारों को भेजा जाएगा।

यूक्रेनी बलों के नियंत्रण में कीव
कीव शहर के राज्य प्रशासन ने एक बयान में कहा कि रविवार सुबह तक राजधानी कीव यूक्रेनी बलों के नियंत्रण में है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, प्रशासन के पहले उप प्रमुख मायकोला पोवोरोज्निक ने कहा, कीव में स्थिति शांत है, राजधानी पूरी तरह से यूक्रेनी सेना के कब्जे में है। रात में दोनों सेनाओं के बीच काफी संघर्ष हुआ।

यूक्रेन की सरकार द्वारा संचालित यूके इनफार्म समाचार एजेंसी के अनुसार, यहां सोमवार सुबह आठ बजे (0600 जीएमटी) तक कर्फ्यू लागू है और इस अवधि के दौरान विशेष पास के बिना निजी वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया गया है।

ट्रम्प ने ज़ेलेंस्की की तारीफ की
आपको बता दें कि, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की निंदा की और कहा कि वह यूक्रेनियन के लिए प्रार्थना कर रहे हैं। ट्रम्प ने यूक्रेनियन के लिए सहानुभूति व्यक्त की और इस बार यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की की प्रशंसा की, उन्हें "बहादुर" कहा।

टेनिस खिलाड़ी लड़ेंगे लड़ाई
एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन के टेनिस खिलाड़ी सर्गेई स्टाखोवस्की का कहना है कि वह रूसी आक्रमण से लड़ने के लिए अपने देश के सैन्य शक्ति में शामिल हो गए हैं।