रूस - यूक्रेन तनाव तबाही का मंजर: ऑपरेशन गंगा के तहत विशेष विमान भारतीय नागरिकों को लेकर पोलैंड से दिल्ली के लिए रवाना, कीव को भारतीय नागरिकों ने खाली किया

March 1st, 2022

हाईलाइट

  • बेनतीजा रही बेलारूस बातचीत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय छात्र की मौत पर विदेश मंत्रालय ने रूस और यूक्रेन के विदेश सचिवों से बात की है, छात्रों को आने के लिए गंभीरता बरतते हुए एक बार फिर भारतीय फॉरेन मिनिस्ट्री ने दोनों देश से सुरक्षित रास्ता अपनाने को कहा है। छात्र की मौत पर परिवार में मातम पसरा हुआ है। छात्र के परिजनों के रो-रो कर बुरा हाल हो रहा है।

ऑपरेशन गंगा के तहत.यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को लेकर विशेष विमान पोलैंड से दिल्ली के लिए रवाना हो गई है। भारत सरकार देश के फंसे नागरिकों को लाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। केंद्रीय मंत्री  जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह ने रेज़ज़ो-जसियोनका हवाई अड्डे पर भारतीय छात्रों से मुलाकात भी की। भारत सरकार ने अपने चार मंत्रियों को भी छात्रों की मदद के लिए भेजा है। भारत के लिए अच्छी खबर है कि भारतीय नागरिकों ने यूक्रेन की राजधानी कीव को छोड़ दिया है। विदेश मंत्रालय के सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने इस बात की पुष्टि की है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूस विरोधी प्रतिबंधों और यूक्रेन को सैन्य मदद के लिए अमेरिकी से चर्चा की। यूक्रेन के राष्ट्रपति ने इस बात की खुद ट्वीट कर जानकारी दी।

आईएएफ अधिकारी ने बताया कि भारतीय वायु सेना का सी-17 परिवहन विमान यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए कल सुबह 4 बजे रोमानिया के लिए रवाना होगा। वायुसेना का विमान दिल्ली के पास हिंडन एयरबेस से उड़ान भरेगा।

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया कि हमारे सभी भारतीय नागरिक कीव छोड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पास जानकारी यह है कि कीव में अब हमारे पास कोई नागरिक नहीं बचा है। विदेश सचिव ने कहा तब से कीव से किसी ने भी हमसे संपर्क नहीं किया है। 

यूक्रेन में रूस लगातार बमबारी करके कीव पर कब्जा करना चाह रहा है। खबरें आ रही हैं कि कीव में टीवी टावर पर बड़ा हमला हुआ है, जिसकी वहज से यूक्रेन के टीवी चैनल का प्रसारण बंद हो गया है। यूक्रेन डिफेंस ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। खबरों के मुताबिक रूसी हमले में पांच नागरिकों की मौत हो गई है।

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बातचीत की है। गौरतलब है कि आज युद्ध का छठवां दिन है। इसी दौरान PM मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के बीच टेलीफोनिक बात हुई है।

यूक्रेन और रूस के बीच जारी जंग में खबर आ रही है कि रूस ने खारकीव में मिसाइल हमला किया है। जिससे कई अस्पताल तबाह होने की खबर आ रही है। रूसी  सेना के इस हमले में कई लोगों की जान जाने की आशंका है। एयरस्ट्राइक के बाद यूक्रेन के शहर खारकीव में कर्फ्यू लगाया गया है।

रूस औऱ यूक्रेन के बीच एक बार फिर होगी बातचीत। बुधवार को दोनों देशों के जनप्रतिनिधि फिर होंगे आमने सामने। यूक्रेन पर हुए रूस के हमले पर होगी चर्चा। चर्चा के पहले चरण में यूक्रेन ने रूस के सामने रखी थीं कुछ शर्तें।

यूक्रेन में जारी हवाई हमले में एक भारतीय छात्र की मौत होने की पुष्टि हुई है।  कर्नाटक के बेंगलुरू का छात्र बताया जा रहा  है ,एशियानेट न्यूज के अनुसार छात्र  का नाम नवीन एसजी है।  छात्र की उम्र  21 वर्ष बताई जा रही है।  विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इसकी पुष्टि की है।  कर्नाटक के;चेलागिरी का छात्र है। 

                      

मिली जानकारी के मुताबिक यूक्रेन के लिए आने वाले अगले 24 घंटे भयावह हो सकते है। यूक्रेन की राजधानी  कीव के नजदीक ही रूस का सैन्य जत्या रूका हुआ है।

 

बताया जा रहा है कि इस सेना के इस काफिले में भारी तबाही मचाने वाले ह्थियार रखे हुए है।  जो कभी भी कीव पर कहर बरपा सकते है। 

फ्रांस के वित्त मंत्री का कहना है कि यूरोपीय संघ रूस के खिलाफ चौतरफा आर्थिक युद्ध शुरू करेगा। फ्रांस के वित्त मंत्री के अनुसार, रूस के खिलाफ पश्चिम द्वारा लगाए गए प्रतिबंध "बेहद प्रभावी" हैं

रूस की तरफ से लगातार हमलों का दौर जारी। खारकीव एडमिनिस्ट्रेटिव बिल्डिंग के बाद एक सुपर मार्केट पर रूस ने गिराया बम। इस हमले में एक भारतीय छात्र की मौत की खबर।

सेंट्रल खार्किव रॉकेट हमले में एक बच्चे सहित 6 लोग घायल।

 पूर्वी यूक्रेन में खार्किव सरकार के मुख्यालय पर मिसाइल हमले जर्जर हुई इमारत

 

यूक्रेन ने फेसबुक पर दावा किया  है कि रूस के 29 एयरक्राफ्ट को ध्वस्त कर दिया  है।

पूर्वी यूक्रेन में खार्किव सरकार के मुख्यालय पर रूसी हवाई हमला

 

सैन्य अड्डे की गोलाबारी में 70 से अधिक यूक्रेनी सैनिक मारे गए - गवर्नर

 

शंकाएं बढ़ रही हैं कि रूस का सैन्य बल राजधानी कीव के साथ अन्य बढ़े शहरों पर नियंत्रण के लिए आज विनाशकारी और तेज हमले कर सकता है।

        

इसे देखते हुए भारतीय प्रधानमंत्री ने कीव में रह रहे सभी भारतीयों से आज ही कीव शहर छोड़ने को कहा है। भारत ने इसके लिए एडवायजरी जारी की है। 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की, पीएम मोदी ने राष्ट्रपति से यूक्रेन संकट समेत कई अहम विषयों पर चर्चा की। दूसरी तरफ अमेरिका ने रूस के यूक्रेन हमले को लेकर एक चेतावनी दी है जिसमें अमेरिका ने कहा है कि रूसी हमले का सपोर्ट करने वाले बेलारूस को ये जंग महंगी पड़ेगी। अमेरिका ने दावा किया है कि रूस वैक्यूम बंम का इस्तेमाल कर सकता है, जो  मानवता के लिए खतरा है।  

अमेरिका ने स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी  की मूर्ति पर यूक्रेन का झंडा लपेटा है। 


नाटो ने  यूक्रेन को समर्थन देने के लिए अपने प्रयास तेज कर दिए है। वहीं ईयू में शामिल चार देशों ने युद्ध में सहयोग करने के लिए यूक्रेन सेना को 70 फाइटर प्लेन देने का घोषणा की है। 

 FIFA, UEFA और IOC सहित कई स्पोर्ट निकायों ने यूक्रेन पर जारी हमले को लेकर रूस पर प्रतिबंध लगा दिए है।

रूस यूक्रेन के बीच एक के बाद एक वार्ता फैल होती हुई नजर आई है। अब यह जंग और बढ़ा रूप लेती जा रही है।  सोमवार को बेलारूस में दोनों देशों के बीच हुई बातचीत बेनतीजा रही। न्यूक्लियर एटम हथियार तैयारी के आदेश दे चुके रूसी राष्ट्रपति अब आर पार की लड़ाई करने के मूड़ में नजर आ रहे है। जानकारी के अनुसार रूस की मदद के बिना आईएसएस बनाने की तैयारी में नासा का नजरिया है।
खबरों के मुताबकि सैटेलाइट इमेज में यूक्रेन की राजधानी कीव के आस पास रूसी सेना का करीब 64 किलोमीटर का जत्था देखा गया है। इस काफिले में भारी तादाद में बख्तरबंद वाहन, सेना के ट्रक, टैंक और सैन्य बल शामिल हैं  जो कीव की ओर बढ़ रहा है। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में इमरजेंसी डिबेट के पक्ष में 29 वोट पड़े हैं। भारत समेत 13 देशों ने इस वोटिंग में भाग नहीं लिया। 

इस बीच भारत के लिए सबसे अच्छी बात यह है कि मंगलवार सुबह सातवीं फ्लाइट युद्ध स्थल यूक्रेन से 182 भारतीय लोगों को लेकर  मुंबई पहुंच गई है।  केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने मुंबई हवाई अड्डे पर भारतीय छात्रों का स्वागत किया। 



 

खबरें और भी हैं...