दैनिक भास्कर हिंदी: जाकिर नाइक से प्रेरित था श्रीलंका आतंकी हमले को अंजाम देने वाला आतंकी!

April 25th, 2019

हाईलाइट

  • लेक्चरर और वक्ता भी था हमले का मास्टरमाइंड
  • भारत में मोस्ट वॉन्टेड है जाकिर नाइक
  • मलेशिया में रहता है जाकिर

डिजिटल डेस्क, कोलंबो। श्रीलंका में ईस्टर के दौरान चर्च और होटल्स में हुए बम धमाकों का मास्टरमाइंड नेशनल तौहीद जमात (NYJ) का आतंकी  मौलवी जहरान हाशमी था। हाशमी पेशे से लेक्चरर और एक वक्ता भी था, उसने शारंगी ला होटल में हमला किया और वहीं पर खुद को उड़ा लिया। बताया जा रहा है कि वह इस्लामिक कट्टरपंथी मोस्ट वॅान्टेड डॉ. जाकिर नाइक से प्रेरित था। 

मौलवी जहरान हाशमी नक्सलवाद और इस्लामिक विचारधारा वाला था। उनके यूटयूब पर कई वीडियो भी हैं, जिसमें वह नक्सलवाद का प्रचार कर रहा है। वह अपनी वीडियो में कह रहा है कि जाकिर नाइक के लिए  श्रीलंका के मुसलमान क्या कर सकते हैं? भारत में  जाकिर नाइक को मोस्ट वॅान्टेड करार दिया गया है, और उसकी नागरिकता भी छीन ली गई है। इस वक्त जाकिर मलेशिया में है। मलेशिया ने जाकिर को वहा कि नागरिकता दे दी है। मलेशिया के प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें जाकिर से कोई दिक्कत नहीं है, वह उसे तब तक निर्वासित नहीं करेंगे, जब तक वह कोई समस्या खड़ी नहीं करता। उन्होनें जाकिर को भारत को सौंपने से मना कर दिया है। जाकिर नाइक भारत के साथ-साथ कनाडा और ब्रिटेन में भी प्रतिबंधित है। गौर करने वाली बात यह है कि  जाकिर नाइक ने श्रीलंका हमले की निंदा की है, ताकि उस हमले को NYJ से न जोड़ा जाए। 

जाकिर नाइक पर भारत के प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के नाम पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाया था। वह इस  फाउंडेशन को मुस्लिम समुदाय के कल्याण कार्य के लिए चलाचता था। 
खबरों के मुताबिक जाकिर ने लगभग 113 मिलियन की संपत्ति डायवर्ट की थी। इनमें मुम्बई और पुणे में करीब 20 फ्लेट भी थे। 21 मार्च को ज्वेलर अब्दुल कादिम नजमुद्दीन शतक को गिरफ्तार किया गया था, वो यूएई से संदिग्ध मूल फन्ड को ट्रांसफर करने में जाकिर नाइक की मदद करता था। जाकिर ने एक बार ओसामा बिन लादेन की तारीफ करते हुए दावा किया कि वह आतंकवादी नहीं था। 

 

 

 

 

खबरें और भी हैं...