दैनिक भास्कर हिंदी: डोनाल्ड ट्रम्प बोले- महाभियोग जबरदस्त गुस्सा पैदा कर रहा है, लेकिन मैं हिंसा नहीं चाहता

January 12th, 2021

हाईलाइट

  • ट्रम्प का उनके खिलाफ चलाए जा रहे महाभियोग को लेकर बयान
  • ट्रम्प ने कहा, यह महाभियोग जबरदस्त गुस्सा पैदा कर रहा है

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का उनके खिलाफ चलाए जा रहे महाभियोग को लेकर बयान सामने आया है। ट्रम्प ने कहा, यह महाभियोग जबरदस्त गुस्सा पैदा कर रहा है, लेकिन मैं हिंसा नहीं चाहता। उन्होंने कहा, कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद) में समर्थकों को हिंसा भड़काने के लिए उकसाने का आरोप लगाकर महाभियोग लाने का कदम उनके खिलाफ विच हंट है। 

यदि प्रतिनिधि सभा (निचला सदन) बुधवार को महाभियोग के पक्ष में मतदान करती है तो ट्रम्प पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बन जाएंगे जिन पर दो बार महाभियोग चलेगा। हालांकि महाभियोग की कार्रवाई कई महीनों तक चल सकती है। जबकि ट्रम्प का कार्यकल केवल 10 दिनों का बचा है। यहीं वजह है कि सोमवार को डेमोक्रेटिक सदस्यों ने डोनाल्ड ट्रम्प को पद से हटाने के लिए उपराष्ट्रपति माइक पेंस से  25वें संशोधन को लागू करने करने की मांग की थी। डेमोक्रेटिक सदस्यों के इस अनुरोध को खारिज कर दिया।

बता दें कि डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ सोमवार को डेमोक्रेटिक पार्टी के तीन सांसदों ने महाभियोग प्रस्ताव पेश किया है। यह प्रस्ताव सांसद जैमी रस्किन, डेविड सिसिलीन और टेड ल्यू लेकर आए हैं और इसका समर्थन अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के 211 सदस्यों ने किया है। मीडिया में जारी बयान के अनुसार इस प्रस्ताव में निर्वतमान राष्ट्रपति पर अपने कदमों के जरिए छह जनवरी को ‘राजद्रोह के लिए उकसाने’ का आरोप लगाया गया है।

इसमें कहा गया है कि ट्रम्प ने अपने समर्थकों को कैपिटल बिल्डिंग की घेराबंदी के लिए तब उकसाया, जब वहां इलेक्टोरल कॉलेज के मतों की गिनती चल रही थी। लोगों के धावा बोलने की वजह से यह प्रक्रिया बाधित हुई। इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...