एलियन आपदा: अमेरिका में एलियन संबंधी आपदाओं से बचने के लिए UFO ऑफिस की मांग 

November 20th, 2021

हाईलाइट

  • यहां पर एलियन हमले से बचने की तकनीकों, रिसर्च और विचारों पर काम होगा
  • इस ऑफिस का मकसद ज्यादा से ज्यादा जानकारी इकट्ठा करना होगा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। एलियन के बारे में हम काफी समय से सुनते आ रहे और कई फिल्मकेर्स इस काल्पनिक दुनिया पर फिल्में भी बना चुके है लेकिन एलियन की कहानियां अभी तक भूतों जैसी है, जिसे दिख गया वो यकीन करता है और जिसे नहीं वह मजाक में उड़ा देता है। लेकिन अमेरिका में राजनेताओं के बीच अब यह एक गंभीर मुद्दा बन चुका है और हर मुद्दे पर एकदूसरे की खिलाफत करने वाली अमेरिकी पार्टियां और राजनेता इस मुद्दे पर साथ आ गए हैं।

हाल ही में रिपब्लिकन और डेमोक्रेट्स एक ऐसे विषय पर एकसाथ आए हैं, जिससे पूरी इंसानियत को खतरा हो सकता है। दोनों दलों के नेता इसको लेकर मांग कर रहे हैं कि इस आपदा से बचने के लिए एक खास तरह का ऑफिस बनाना चाहिए, जिसमें ऐसी तकनीकों का विकास किया जाए जो एलियन आपदा (Alien Calamity) से बचा सके। 

एक अमेरिकन न्यूज वेबसाइट 'पॉलिटिको' ने ब्रह्मांड की आफत से बचने के लिए होने वाले इस निराले राजनीतिक गठबंधन के बारे में खबर लिखी है। जिसमें बताया गया है कि अनआइडेंटीफाइड एरियल फेनोमेना (Unidentified Aerial Phenomena - UAP) मतलब UFO (Unidentified Flying Objects) संबंधी जानकारियां जमा करने के लिए खास तरह का UFO Office होना चाहिए। यहां पर एलियन हमले से बचने की तकनीकों पर रिसर्च और विचारों पर काम होना चाहिए। इसके चलते दोनों पार्टी के नेता देश के नेशनल डिफेंस ऑथोराइजेशन एक्ट में बदलाव करने में एकसाथ सहमती जता चुके है।

  अमेरिका के दोनों दल एक नया विभाग या कहें ऑफिस, खोलना चाहते हैं। इसका नाम एनोमली सर्विलांस एंड रेजोल्यूशन ऑफिस (Anomaly Surveillance and Resolution Office - ASRO) बताया जा रहा है। जिसे अमेरिकी जनता UFO ऑफिस का नाम दे रही है।

इस ऑफिस का मकसद है ज्यादा से ज्यादा जानकारी इकट्ठा करना होगा, जिससे ये पता चल सके कि UAP को लेकर कानून में क्या-क्या बदलाव किए जाएं। इसके अलावा इस ऑफिस में नई तकनीकों को विकसित करने और उन्हें सही जगह पर तैनात करने की स्टडी भी की जाएगी।

Zoo hypothesis' may explain why we haven't seen any space aliens

न्यूयॉर्क की सीनेटर कर्स्टेन गिलिब्रांड ने पॉलिटिको से बात करते हुए कहा कि, "अगर ऐसी कोई टेक्नोलॉजी है जिसके बारे में हमें नहीं पता। चाहे वह एलियन हो या अंतरिक्ष से कहीं से आ रही हो। जिससे किसी भी तरह का नुकसान हो सकता है या फिर एलियन हमला हो सकता है तो हमें उसकी जानकारी जमा करनी होगी। उससे निपटने के लिए अपनी तकनीक बनानी होगी। रेत में सिर छिपाने से हम इससे बच नहीं पाएंगे।"

कर्स्टेन गिलिब्रांड ने आगे कहा कि, "हम दस सालों से ज्यादा समय से एलियन और यूएफओ के बारे में सुनते आ रहे हैं। इन्हें लेकर सबूत, दस्तावेज और नजारे मौजूद हैं। अगर हम दूसरे ग्रहों पर जाकर निगरानी कर सकते हैं तो हो सकता है कि दूसरे ग्रहों से भी कोई आता-जाता हो।" 

कर्स्टेन के साथ सीनेटर मार्को रुबियो, लिंडसी ग्राहम और रॉय ब्लंट भी इस पर अपनी सहमति दे रहे है।