दैनिक भास्कर हिंदी: अमेरिका ने रोकी पाक की 2100 करोड़ की मदद, आतंकियों पर कार्रवाई न करने की सजा

September 2nd, 2018

हाईलाइट

  • अमेरिका के इस फैसले के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान की साख और गिर गई है।
  • अमेरिका ने कहा, अफगानिस्तान पिछले 17 साल से अफगानिस्तान में आतंकवादी गतिविधियां फैला रहे हैं।
  • पहले भी अमेरिका ने पाकिस्तान को समझाइश दी थी, लेकिन उसने अनसुना कर दिया।

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 300 मिलियन डॉलर (2100 करोड़ रुपए) की मदद रोक दी है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने इसकी वजह आतंकियों पर कार्रवाई न किए जाने को बताया है। अमेरिका के इस फैसले के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान की साख और गिर गई है। इस फैसले पर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय प्रशासन ने कहा कि पाकिस्तान आतंकियों पर कार्रवाई न करके उन्हें सुरक्षित स्थान मुहैया करा रहा है। अफगानिस्तान में ये आतंकी पिछले 17 साल से आतंकवादी गतिविधियां फैला रहे हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पहले भी पाकिस्तान को चेतावनी दे चुके हैं। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान को अपने यहां आतंकियों पर कार्रवाई करनी चाहिए। इसके बाद अमेरिकी अधिकारियों ने भी पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी थी, लेकिन पाकिस्तान ने उसे नजरअंदाज कर दिया। अमेरिका ने यह भी कहा है कि पाकिस्तान आतंकियों पर कार्रवाई करता है तो उसे दोबारा मदद दी जा सकती है।

 

 

बता दें पाकिस्तान नई सरकार बनने के बाद पाकिस्तान में कोई सुधार नहीं हुआ है। आतंकियों को लेकर उसकी नीतियों में कोई बदलाव नहीं देखा जा रहा है। इस समय पाकिस्तान आर्थिक तंगी के दौर से भी गुजर रहा है। इमरान खान के सामने पाकिस्तान को आर्थिक तंगी से उबारने की बड़ी चुनौती है। हालांकि, इसके लिए इमरान ने खर्चों में कटौती करनी शुरू कर दी है। पाकिस्तान पर दुनियाभर की संस्थाओं का कर्जा है। ऐसे में अमेरिका की तरफ से मदद रुकने के बाद पाकिस्तान में आर्थिक तंगी और बढ़ सकती है।