रूस-यूक्रेन युद्ध: बहुत जल्द होने वाला है कुछ ऐसा जिसे देख कर चौंक जाएगी दुनिया, रूस के हमले झेल रहे यूक्रेन के राष्ट्रपति ने किया दावा

June 20th, 2022

हाईलाइट

  • ऑस्ट्रेलिया ने यूक्रेन को भेजे हथियार

डिजिटल डेस्क, कीव। रूस-यूक्रेन युद्ध को आज 118 दिन हो गए है। रूस यूक्रेन पर दनादन हमले कर रहा है वहीं यूक्रेन भी इस बीच घुटने टेकने को तैयार नहीं है। इस सब के बीच यूक्रेनियन राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की का बड़ा बयान सामने आया है, जहां उन्होंने यह दावा किया है कि इस तनाव का अगला हफ्ता ऐतिहासिक होने वाला है क्योंकि 23 जून को यूरोपीय परिषद यूक्रेन के यूरोपीय संघ की सदस्यता आवेदन पर निर्णय लेने के लिए तैयार है। इस बीच यूरोपीय संघ के विदेश मंत्री यूक्रेन में फंसे लाखों टन अनाज को मुक्त करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इसी के चलते रूस अपने हमले तेज कर सकता है। 

जेलेंस्की ने कहा, "अगला सप्ताह वास्तव में ऐतिहासिक होगा, क्योंकि यूरोपीय परिषद 23 जून को यूक्रेन के यूरोपीय संघ की सदस्यता आवेदन पर निर्णय लेने के लिए तैयार है। इससे स्पष्ट है कि रूस से दुश्मनी और बढ़ेगी। यूरोपीय आयोग ने 17 जून को यूक्रेन को उम्मीदवार का दर्जा देने की सिफारिश की थी।"

दरअसल, इस सारी फसाद की जड़ ही यूक्रेन का यूरोपीय संघ में शामिल होना था। रूस नहीं चाहता था कि यूक्रेन यूरोपीय संघ का हिस्सा बने इसलिए ही उसने 24 फरवरी को अपने पड़ोसी मुल्क पर हमला बोल दिया था। 

ऑस्ट्रेलिया ने यूक्रेन को भेजे हथियार 

रूस के हमले के बाद से लगभग सभी देशों की तरफ से यूक्रेन को मूलभूत के साथ-साथ सैन्य मदद मुहैया कराई गई है। इसी कड़ी में ऑस्ट्रेलिया ने 4 M113 आर्म्ड पर्सनल कैरियर यूक्रेन को भेजे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 285 मिलियन डॉलर के सैन्य सहायता पैकेज के  तहत इस सप्ताह वादा किए गए 14 बख्तरबंद कर्मियों के वाहक में से 4 यूक्रेन भेजे गए हैं।

रुस को भारी नुकसान 

युद्ध में रूस को भी अब भारी परेशानियों का सामना कर पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक, 19 जून को दक्षिणी यूक्रेन में 28 जबकि पूर्वी यूक्रेन में 14 रूसी सैनिक मारे गए है। इसके अलावा यूक्रेन के ऑपरेशनल कमांड साउथ ने बताया कि यूक्रेन ने एक रूसी टैंक, दो सैन्य वाहनों और 152-mm हॉवित्जर को भी नष्ट कर दिया। उधर,ऑपरेशनल कमांड ईस्ट ने पुष्टि की कि उसने चार रूसी तोपखाने ट्रैक्टर और एक स्व-चालित तोपखाने वाहन को नष्ट कर दिया है।

आपको बता दें, युद्ध से मची भारी तबाही में नागरिकों को भी बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, रविवार को रूसी गोलाबारी में खार्किव ओब्लास्ट में 3 बच्चे घायल हो थे। रूसी सेना डोनबास में बस्तियों पर गोलीबारी जारी रखी हुए है।