चीन-अमेरिका संबंध: विश्व शीतयुद्ध से निकला है, तो लोहे का पर्दा फिर से नहीं गिराना चाहिए : वांग यी

February 28th, 2022

हाईलाइट

  • वांग यी ने अपने भाषण में अमेरिका से चीन के प्रति विवेकपूर्ण और व्यावहारिक नीति अपनाने का आग्रह किया

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। 28 मार्च को चीनी स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी ने शांगहाई विज्ञप्ति जारी होने की 50वीं वर्षगांठ मनाने की महासभा में वीडियो भाषण देकर बताया कि चीन और अमेरिका दोनों देशों की जनता महान है।

चीन-अमेरिका संबंधों का द्वार खुला है, तो उसे फिर बंद नहीं करना चाहिए। विश्व शीतयुद्ध से निकला है ,तो लोहे का पर्दा फिर से नहीं गिराना चाहिए।

चीन और अमेरिका को शांगहाई विज्ञप्ति से अधिक बुद्धिमता निकालकर दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों की अहम समानताओं के मार्गदर्शन में नयी परिस्थिति में चीन और अमेरिका के बीच पारस्परिक सम्मान, शांतिपूर्ण सहअस्थित्व, सहयोग और समान जीत का सही रास्ता निकालना चाहिए। ताकि दोनों देशों यहां तक पूरे विश्व को लाभ मिले।

वांग यी ने अपने भाषण में अमेरिका से चीन के प्रति विवेकपूर्ण और व्यावहारिक नीति अपनाने का आग्रह किया। उन्होंने चार पहलुओं पर जोर दिया। पहला, एक चीन सिद्धांत पर कायम रहकर चीन अमेरिका संबंधों के राजनीतिक आधार को मजबूत बनाया जाए।

दूसरा ,पारस्परिक सम्मान पर कायम रहकर चीन अमेरिका संबंधों को सही दिशा में बढ़ाया जाय। तीसरा, सहयोग व समान जीत पर कायम रहकर चीन अमेरिका के विकास व समृद्धि को बढ़ावा दिया जाए। चौथा, बड़ी जिम्मेदारी पर कायम रहकर विश्व को अधिक सार्वजनिक उत्पाद प्रदान किया जाए।

(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)

(आईएएनएस)