comScore

वॉर गैम: बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक से बचने के लिए युद्धाभ्यास कर रही पाक वायुसेना, इंडियन नैवी रख रही पैनी नजर

वॉर गैम: बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक से बचने के लिए युद्धाभ्यास कर रही पाक वायुसेना, इंडियन नैवी रख रही पैनी नजर

हाईलाइट

  • पाकिस्तान को सता रहा बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक का डर
  • पाकिस्तान की वायुसेना हाई मार्क कोड नाम से एक वॉर गेम में हिस्सा ले रही है
  • वॉर गेम में पाकिस्तान एयरफोर्स के फाइटर जेट जेएफ-17, एफ-16 और मिराज 3 शामिल

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान की वायुसेना इन दिनों बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक से बचने के लिए युद्धाभ्यास (वॉर गेम) कर रही है। इस युद्धाभ्यास को ‘हाई मार्क’ नाम दिया गया है। भारतीय वायुसेना पाक के इस 'हाई मार्क' को पर कड़ी नजर रख रही है। इस युद्धाभ्यास में पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू और अन्य विमान शामिल हैं। सरकारी सूत्रों ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि यह युद्धाभ्यास पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र में हो रहा है और पाकिस्तानी वायुसेना द्वारा अपने हवाई अभ्यास को लेकर नोटिस टू एयरमैन जारी किया गया है। बता दें कि इस वॉर गेम का मकसद फरवरी 2019 में हुई बालाकोट जैसी एयर स्ट्राइक से निपटना है।

न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तानी लड़ाकू विमान रात के समय उड़ान भरने सहित विभिन्न युद्धाभ्यास कर रहे हैं। इसमें चीनी जेएफ-17, एफ-16 एस और मिराज-3 एस विमान भी शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तानी विमान पिछले साल फरवरी में भारतीय वायुसेना द्वारा बालाकोट में किए गए हवाई हमले की तरह रात के समय होने वाले छापे (रेड) को लेकर अभ्यास कर रहे हैं। पाकिस्तानी जेट ने अभ्यास अभियानों के लिए कल रात कराची शहर से बड़े पैमाने पर उड़ान भरी थी।

पाकिस्तान को सता रहा बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक का डर
पिछले महीने पाकिस्तान ने कश्मीर के हंदवाड़ा में हुई मुठभेड़ में भारतीय सेना के कर्नल के शहीद होने के बाद भारतीय वायुसेना द्वारा बदले की आशंका के चलते रात के समय उड़ान भरना शुरू कर दिया था। बता दें कि दो मई को हुए आतंकी मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा समेत पांच जवान शहीद हो गए थे। मुठभेड़ में जवानों के शहीद होने से पाकिस्तान को भारत की तरफ से जवाबी कार्रवाई का डर सता रहा था।

पुलवामा हमले के बाद भारत ने एयर स्ट्राइक की थी
इंडियन एयरफोर्स ने 12 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा हमले के बाद 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी। अगले दिन 27 फरवरी को पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई की कोशिशों को हमारी एयरफोर्स ने नाकाम कर दिया था। पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश ने ली थी। इसके 12 दिन बाद वायुसेना ने एयर स्ट्राइक की थी।

कमेंट करें
q8aFS