दैनिक भास्कर हिंदी: अमेरिका-चीन के बाद अब सऊदी बोला, भारत पाक टेंशन कम कराने में हमारा योगदान

March 18th, 2019

हाईलाइट

  • तनाव कम होने के बाद मची क्रेडिट लेने की होड़
  • सऊदी दूत ने कहा, तनाव कम करने में हमने निभाई भूमिका
  • क्राउन प्रिंस ने मोदी और इमरान से की बात-सऊदी दूत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध इस वक्त काफी खराब चल रहे हैं, कुछ दिनों पहले तो नौबत यहां तक आ गई थी कि दुनिया को लगने लगा था कि दोनों देशों के बीच किसी भी वक्त युद्ध शुरू हो सकता है। हालात अभी भी नहीं सुधरे हैं, लेकिन तनाव उतना नहीं है, जितना कुछ दिनों पहले तक था, लेकिन अब दुनियाभर के शक्तिशाली देशों में शांति बहाली का क्रेडिट लेने कि होड़ शुरू हो गई है, अब सऊदी अरब ने कहा है कि दोनों देशों के बीच तनाव कम करने में हमने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

भारत में सऊदी के दूत डॉक्टर अहमद अल बन्ना ने सोमवार को कहा है कि हमने आगे बढ़कर भारत-पाकिस्तान के बीच टेंशन कम करने में सहयोग किया है। दोनों देशों में तनाव के बीच सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तानी पीएम इमरान खान से बातचीत की थी, हालांकि डॉ. बन्ना ने कहा कि हमारी भूमिका मध्यस्थ के तौर पर नहीं थी, हमने अपने विशेष रिश्तों के जरिए दोनों देशों से तनाव कम करने का अनुरोध किया। 

बता दें कि इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि दोनों देशों में तनाव के बीच एक अच्छी खबर आने वाली है, जिसके बाद तनाव का माहौल खत्म हो जाएगा। ट्रंप के इस बयान के कुछ देर बाद ही पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने भारतीय पायलट अभिनंदन वर्थमान को कैद से रिहा करने का ऐलान कर दिया था। इतना ही नहीं भारत के पड़ोसी देश चीन ने भी बयान दिया था कि वो भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने के लिए मध्यस्थता कराने के लिए तैयार हैं, हालांकि भारत ने इसे अस्वीकार कर दिया था।

 

 

 

 

खबरें और भी हैं...