दैनिक भास्कर हिंदी: पाकिस्तान से विजिटर वीजा पर लखनऊ आए 31 लोग गायब, ढूंढ रही ATS

December 29th, 2018

हाईलाइट

  • फर्जी पते लिखवाकर आए भारत
  • जांच एजेंसियां कर रहीं तलाश
  • ज्यादातर लोग कराची के रहने वाले

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। पाकिस्तान के भारत से अलग होने के बाद से अब तक विजिटर वीजा पर लखनऊ आए 31 लोग काफी समय से गायब हैं। इतना ही नहीं उन्होंने लखनऊ के जिन लोगों का पता अपने रिश्तेदार के तौर पर लिखवाया था, उनमें से ज्यादातर फर्जी निकले हैं। अब उत्तर प्रदेश एटीएस और इंटेलिजेंस एजेंसियां लापता लोगों को ढूंढने की कोशिश कर रही हैं।

इंटेलिजेंस और यूपी  एटीएस को लापता पाकिस्तानियों के बारे में जानकारी जुटाने के आदेश दिए गए हैं। ये सभी लोग भारत आने के बाद कहां गए हैं, किसी के पास भी इसकी जानकारी नहीं है। जांच में जुटे अधिकारियों के मुताबिक इनमें से ज्यादातर लोग कराची के रहने वाले हैं। पता लगाया जा रहा है कि उनके लखनऊ आने का क्या मकसद था? लापता पाकिस्तानी नागरिक जिन लोगों के घर का पता लिखवाकर आए हैं, उनसे भी  पूछताछ की जा रही है। 
 

कराची से जुबैर नामक एक शख्स लखनऊ के विक्टोरिया स्ट्रीट पर रहने वाले सलमान का पता नोट करवाकर आया था, लेकिन जब सलमान के घर पर पूछताछ की गई तो उन्होंने ऐसे किसी भी शख्स को पहचानने से इनकार कर दिया। सलमान के मोहल्ले में भी जुबैर के लापता होने की चर्चाएं तेज हैं, हालांकि उनके परिवार का दावा है कि जुबैर नाम का कोई शख्स उनके घर कभी नहीं आया। 

कराची का ही एक और शख्स याकूब कैंट इलाके में रहने वाले मो. शफी का पता नोट करवाकर लखनऊ आय था, लेकिन वो भी लापता है। शफी पुलिस को लिखित में दे चुके हैं कि वो किसी याकूब को नहीं जानते। इसके अलावा कैसरबाग में रहने वाले मुस्तफा भी पुलिस की पूछताछ से तंग आ चुके हैं, उनके पते पर शमीम नाम का पाक नागरिक लखनऊ आया था।


ये पाकिस्तानी नागरिक लापता 
पाकिस्तान से लखनऊ आकर लापता होने वालों में इश्तियाक अली, तुरोज खान, समसुल हुसैन, उनकी पत्नी जहरा बेगम, फरीदा, अहमद, नुसरत अली, मो. युसुफ, असउद्दीन, तकीउद्दीन, कल्लू खां, मुन्ना, जमील, कासिम, फजीला, दिलावर, मोहम्मद अली, अहमद सईद, इलियास,  युसुफ, महमूदी बेगम, अब्दुल, सलमा, रहमान, महमूद, रफीउद्दीन, सांवले नवाब और वजीर हुसैन शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...