दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी सरकार के कार्यकाल में हुए सबसे ज्यादा बैंक घोटाले: रणदीप सुरजेवाला

September 5th, 2018

हाईलाइट

  • कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार पर घोटालों के आरोप लगाए है।
  • कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि मोदी सरकार में 70 हजार करोड़ के बैंक घोटाले हुए है।
  • 13 बैंकों में 70,014 करोड़ के घोटाले सामने आ चुके है।
  • बैंकिग क्षेत्र में संकट गहराता नजर आ रहा है।

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली । कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार पर घोटालों  के आरोप लगाए है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि मोदी सरकार में 70 हजार करोड़ के बैंक घोटाले हुए है। जिनके लिए सिर्फ मोदी सरकार जिम्मेदार है। अब तक 13 बैंकों में 70,014 करोड़ के घोटाले सामने आ चुके है। इन्हीं वजहों से बैंकिग क्षेत्र में संकट गहराता नजर आ रहा है। मोदी सरकार में हुए इन घोटालों की वजह से भारत में वित्तीय अराजकता और अर्थिक कुप्रबंधन की समस्या पैदा हो गई है। सुरजेवाला ने कहा है कि मोदी सरकार अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए भारतीय जीवन बीमा निगम को डूबते हुए आईडीबीआई बैंक को खरीदने के लिए बाध्य कर रही है। एक और निजी बैंक में 6,978 करोड़ रुपए का घोटाला उजागर होने के बाद अब 13 बैंकों में हुए घोटाले की कुल रकम 70,014 करोड़ रुपए हो गई है।

सुरेजवाला ने कहा है कि IDBI बैंक इस समय सबसे ज्यादा घाटा झेल रहा है। बैकिंग क्षेत्र में IDBI बैंक की स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो चुकी है। बैंक को 5.663 करोड़ का घोटाला झेलना पड़ रहा है। इसके साथ ही NPA बढ़कर 55,588.26 करोड़ रुपए हो गया। इसलिए एलआईसी पॉलिसी धारकों की  कमाई से डूबते हुए आईडीबीआई बैंक को खरीदने के लिए दबाव डाली रही है। आने वाले समय में चौथी तिमाही में भारतीय बैंकों का घाटा 90,000 करोड़ रुपए होने का जिक्र करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार में वित्तीय अराजकता लगातार जारी है और एनपीए जो 2013-14 में 2,63,000 करोड़ रुपए था वह बढ़कर 10,30,000 करोड़ रुपये हो गया है।