दैनिक भास्कर हिंदी: एक पिता ने अपनी नवजात बच्ची को दिया 'कठुआ गैंगरेप पीड़िता का नाम'

April 15th, 2018

डिजिटल डेस्क, कन्नूर। जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है। आज पूरा देश इस दरिंदगी को अंजाम देने वाले आठ आरोपियों के खिलाफ एकजुट होकर विरोध में उतर आए हैं। घटना पर राजनीति भी की गई। दरिंदगी का शिकार हुई मासूम बच्ची के साथ सहानुभूति रखते हुए केरल के एक पिता ने नई मिसाल कायम कर दी है। इस पिता ने अपनी नवजात बेटी का नाम 'कठुआ गैंगरेप पीड़िता' के नाम पर 'आसिफा' रखा है।

जानकारी के अनुसार अपनी नवजात बेटी का नाम 'कठुआ गैंगरेप पीड़िता' के नाम पर रखने वाले शख्स का नाम रजित राम है। रजित ने फेसबुक पर अपनी बेटी की तस्वीर शेयर करते हुए ऐलान किया है कि उन्होंने अपनी बेटी का नाम गैंगरेप पीड़ित बच्ची के नाम पर रखा है। सोशल मीडिया पर यह पोस्ट शेयर होते ही काफी वायरल होने लगी। उनके पोस्ट को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है।

 

 

फेसबुक पर उनका पोस्ट 15 हजार से भी ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं, जबकि 22 हजार से ज्यादा लोग इसे लाइक कर चुके हैं। सोशल मीडिया पर लोग अपने कमेंट करते हुए रजित राम को धार्मिक सौहार्द की मिसाल बता रहे हैं। साथ ही रजित की जमकर तारीफें भी हो रही हैं।

गौरतलब है कि 'कठुआ गैंगरेप' मामले में 8 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है। इस पूरी घटना का मास्टरमाइंड सांजी राम बताया जा रहा है। सांजी राम की उम्र लगभग 62 साल है। इन 8 आरोपियों में से जिसने आसिफा के साथ सबसे ज्यादा बर्बता की उसकी उम्र महज 15 साल है। 10 जनवरी को लड़के ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर आसिफा को किडनैप किया और मंदिर ले जाने से पहले उसका रेप किया था।

बता दें कि 'कठुआ गैंगरेप' मामले को लेकर देशभर में काफी आक्रोश दिख रहा है। गुरुवार को भी राजधानी दिल्ली में देर रात इंडिया गेट के सामने लोग प्रदर्शन करने पहुंचे थे। वहीं जम्मू में भी सिख संगठनों ने भी शुक्रवार को कैंडल मार्च निकालकर मामले में दोषियों को फांसी की सजा की मांग की।