comScore

आडवाणी बोले - मैं करोड़ों हिंदुस्तानियों के लिए खुश हूं, मस्जिद के लिए जमीन देने के फैसले का स्वागत

November 10th, 2019 02:31 IST
आडवाणी बोले - मैं करोड़ों हिंदुस्तानियों के लिए खुश हूं, मस्जिद के लिए जमीन देने के फैसले का स्वागत

हाईलाइट

  • आडवाणी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच ने आज ऐतिहासिक फैसला दिया है
  • उन्होंने कहा कि मैं भगवान का शुक्रिया अदा करता हूं कि मैं इसका हिस्सा बना
  • 90 के दशक में अडवाणी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए रथ यात्रा निकाली थी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अयोध्या में विवादित राम जन्मभूमि पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शनिवार शाम करीब 6.30 बजे भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि भारत और दुनियाभर में रहने वाले करोड़ों हिंदुस्तानियों के दिल में राम जन्मभूमि के लिए खास जगह है। मैं सभी देशवासियों के लिए खुश हूं। राम और रामायण भारत की संस्कृति, सभ्यता में अहम स्थान रखते हैं। कोर्ट के फैसले से करोड़ों लोगों की भावनाओं का सम्मान हुआ है। मैं कोर्ट के उस फैसले का भी स्वागत करता हूं, जिसमें जजों की बेंच ने मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन देने का फैसला किया है। 

अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर राम मंदिर आंदोलन में शामिल रहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने कहा है कि अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच ने आज ऐतिहासिक फैसला दिया है। राम जन्मभूमि को लेकर देश में जो जन आंदोलन चला वो आंदोलन आजादी के आंदोलन के बाद का सबसे बड़ा आंदोलन रहा और मैं भगवान का शुक्रिया अदा करता हूं कि मैं इसका हिस्सा बना।

उन्होंने कहा कि ये फैसला कई दशक से न्यायिक और गैर न्यायिक मोर्चों पर चलने वाले विवाद का अंत है। चूंकि अब अयोध्या का मंदिर-मस्जिद विवाद खत्म हो चुका है तो वक्त आ गया कि हम अपनी कटुता छोड़कर आपस में सांप्रदायिक सौहार्द और शांति के साथ रहें। राम मंदिर आंदोलन में मैंने हमेशा ये बात कहीं कि अयोध्या में एक भव्य राम मंदिर का निर्माण एक शानदार राष्ट्र मंदिर का निर्माण है। सशक्त, संपन्न, शांतिपूर्ण, सौहार्द भरे राष्ट्र निर्माण में जहां सबको न्याय मिले और कोई अलग-थलग न पड़े आइए एक बार फिर हम एक महान उद्देश्य के लिए समर्पित हों।

अडवाणी ने राम मंदिर निर्माण के लिए निकाली थी रथ यात्रा

गौरतलब है कि आडवाणी ने 90 के दशक में राम मंदिर निर्माण के लिए आंदोलन किया था। उन्होंने गुजरात के सोमनाथ से अयोध्या तक राम रथ यात्रा निकाली थी। यही नहीं उस समय लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने अपने घोषणा-पत्र में राम मंदिर निर्माण कराने का दावा किया था। इसका फायदा बीजेपी को लोकसभा चुनाव में तब हुआ और उसके सांसदों की संख्या लोकसभा में दो से बढ़कर 86 हो गई। आडवाणी की रथ यात्रा ने लगभग 3 दशक पहले काफी सुर्खियां बटोरी। आडवाणी अपने जोशीले और तेजस्वी भाषणों की वजह से हिन्दुत्व के नायक बन गए।
 

कमेंट करें
9JO0E