comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

चरम पर कोरोना महामारी: अब असम में फैल रहे अफ्रीकन स्वाइन फ्लू ने बढ़ाई चिंता, 12 हजार सुअरों को मारने का आदेश

चरम पर कोरोना महामारी: अब असम में फैल रहे अफ्रीकन स्वाइन फ्लू ने बढ़ाई चिंता, 12 हजार सुअरों को मारने का आदेश

हाईलाइट

  • राज्य के 14 जिले सबसे ज्यादा प्रभावित
  • फरवरी में सामने आया था पहला केस

डिजिटल डेस्क, गुवाहाटी। देश में एक ओर जहां कोरोना वायरस का कहर जारी है, वहीं अब एक और बिमारी की दस्तक ने केंद्र सरकार की चिंता ​बड़ा दी है। असम में अफ्रीकन स्वाइन फ्लू से प्रभावित इलाकों में सरकार ने 12 हजार सुअरों को मारने का आदेश दिया है। राज्य सरकार ने बीमारी की रोकथाम के लिए जारी आदेश में कहा है कि अधिकारी ऐसे पशुओं के मालिकों को पर्याप्त मात्रा में मुआवजा देने की व्यवस्था करें।

असम सरकार ने आदेश जारी कर कहा कि जिन इलाकों स्वाइन फ्लू का असर देखा जा रहा है, वहां मौजूद कुल 12 हजार सुअरों को मार दिए जाए। इसके लिए अनके मालिकों को पर्याप्त मात्रा में मुआवजा दिया जाए। स्वाइन फ्लू के कारण अब तक असम में 18 हजार से अधिक मवेशियों की मौत हो चुकी है।

राज्य के 14 जिले प्रभावित
राज्य सरकार के बयान के अनुसार स्वाइन फ्लू से प्रदेश के 14 जिले प्रभावित हुए हैं। इन सभी जिलों के 3 क्षेत्रों में प्रभावित पशुओं को मारने का काम किया जाएगा। असम में कोरोना काल के बीच स्वाइन फ्लू के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने आधिकारिक स्तर पर ये आदेश जल्द से जल्द लागू करने के निर्देश दिए हैं।

फरवरी में सामने आया था पहला केस
अफ्रीकन स्वाइन फ्लू असम में सबसे पहले इस वर्ष फरवरी में सामने आया था। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया, ‘संक्रमण छह जिलों से 3 और जिलों माजुली, गोलाघाट और कामरूप मेट्रोपॉलिटन में फैल गया है।’ शुरुआत में राज्य के 6 जिलों डिब्रूगढ़, शिवसागर, जोरहाट, धेमाजी, लखीमपुर और बिश्वनाथ जिले में संक्रमण सामने आया था।

कमेंट करें
l251s