दैनिक भास्कर हिंदी: ओवैसी का अमित शाह पर अटैक, कहा- 'वो सिर्फ गृह मंत्री हैं, भगवान नहीं'

July 16th, 2019

हाईलाइट

  • लोकसभा में अमित शाह से तीखी बहस के बाद ओवैसी ने बोला हमला
  • कहा- अमित शाह उंगली दिखाकर हमें धमकी देते हैं
  • ओवैसी का कहना है, जो बीजेपी के फैसले का समर्थन नहीं करता, उसे वे राष्ट्रविरोधी करार दे देते हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोकसभा में NIA संशोधन बिल पर चर्चा के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी के बीच जमकर नोकझोंक हुई। इस दौरान अमित शाह ने खड़े होकर लोकसभा में ही ओवैसी को सुनने की आदत डालने की नसीहत दे डाली। इसके बाद ओवैसी ने शाह पर धमकी देने का आरोप लगाते हुए जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, शाह उंगली दिखाकर हमें धमकी देते हैं, जबकि वह सिर्फ गृह मंत्री हैं, भगवान नहीं।

संसद से बाहर निकलने के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, जो भी बीजेपी के फैसले का समर्थन नहीं करता है, उसे वे देशद्रोही कहते हैं। क्या उन्होंने नेशनल और ऐंटी नेशनल की दुकान खोली हुई है? अमित शाह उंगली दिखाकर हमें धमकी देते हैं, लेकिन वह केवल गृह मंत्री हैं, भगवान नहीं। ओवैसी ने ये भी कहा, अमित शाह ने सदन में उंगली दिखाकर बात की जो कि कानून का उल्लंघन है। कोई भी दूसरे सांसद को उंगली दिखाकर बात नहीं कर सकता है।

दरअसल राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को ज्यादा ताकत देने वाला संशोधन विधेयक सोमवार को जोरदार बहस के बाद पारित हो गया। सदन में एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह और ओवैसी के बीच जमकर नोकझोंक हुई। 

लोकसभा में बिल पर चर्चा के दौरान जब सरकार की तरफ से बीजेपी सांसद सत्यपाल सिंह बोल रहे थे, तभी बवाल हो गया। उनके भाषण के दौरान असदुद्दीन ओवैसी ने विरोध किया और बार-बार टिप्पणी करते रहे। इस बीच अमित शाह खड़े हुए और ओवैसी से कहा, आप सुनने की भी आदत डालिए।

अमित शाह ने ओवैसी से कहा, जब कोई और बोलता है तो आप चुप रहकर सुनते हैं लेकिन जब सत्यपाल सिंह बोल रहे हैं तो आप लगातार बीच में बोल रहे हैं। आप सुनने की भी आदत डालिए, इस तरह से काम नहीं चलेगा। शाह के इस बयान पर पलटवार करते हुए ओवैसी ने कहा, मुझे डर लगता है। तब अमित शाह ने जवाब दिया, अगर आपके अंदर डर बैठा है तो हम क्या कर सकते हैं।

NIA संशोधन बिल पर चर्चा के दौरान बीजेपी सांसद सत्यपाल सिंह ने कहा था, आतंकवाद इसलिए फल-फूल रहा है क्योंकि हम उसे राजनीतिक चश्मे से देखते हैं जबकि हमें उससे मिलकर लड़ना चाहिए। उन्होंने कहा, मुंबई ने आतंकवाद को खूब झेला है क्योंकि वहां भी इसे राजनीतिक आईने में देखा गया। हैदराबाद धमाकों में जब पुलिस ने कुछ अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाले संदिग्धों को पकड़ा तो सीधे मुख्यमंत्री ने कमिश्नर से कहा, ऐसा मत कीजिए वरना आपकी नौकरी चली जाएगी। बीजेपी सांसद सत्यपाल सिंह के इस बयान पर हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने आपत्ति जताई। ओवैसी ने बोलना शुरू ही किया था कि अमित शाह खड़े हो गए। इसके बाद सदन में हंगामा हो गया।