दैनिक भास्कर हिंदी: कोलकाता में एकजुट होगा विपक्ष, रैली में शामिल होने पहुंचे देवगौड़ा, पवार और अखिलेश

January 19th, 2019

हाईलाइट

  • बीजेपी को घेरने के लिए सभी विपक्षी पार्टियां शनिवार (19 जनवरी) को एकजुट होने जा रही हैं।
  • रैली के लिए बंगाल में बड़े-बड़े राजनेताओं का जमावाड़ लगना शुरू हो गया है।
  • भारत के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा शुक्रवार को रैली में शामिल होने कोलकाता पहुंचे।

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी पार्टियां महागठबंधन को लेकर गंभीर दिख रही हैं। बीजेपी को घेरने और गठबंधन को मजबूत बनाने के लिए सभी विपक्षी पार्टियां शनिवार (19 जनवरी) को एक बार फिर कोलकाता में एकजुट होने जा रही हैं। इस दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुवाई में एक रैली का भी आयोजन किया जाएगा। इस रैली के लिए बंगाल में बड़े-बड़े राजनेताओं का जमावड़ा लगना शुरू हो गया है।

 

 

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा शुक्रवार को रैली में शामिल होने कोलकाता पहुंचे। हालांकि इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात करने से इनकार कर दिया। इसके अलावा नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार भी ममता की रैली को मजबूती देने पहुंचे हैं। शरद पवार कई बार बीजेपी सरकार के खिलाफ अपनी नाराजगी जता चुके हैं। 

 

 

इन दोनों के अलावा उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी कोलकाता पहुंचे हैं। उन्होंने कोलकाता एयरपोर्ट पर मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 'देश में बदलाव की जरूरत है। लोगों को एक नए प्रधानमंत्री की दरकार है।' वहीं DMK चीफ एमके स्टालिन भी शुक्रवार रात कोलकाता पहुंचे। जबकि आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू और कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामि भी शनिवार को होने वाली रैली में शामिल होने पहुंचे हैं। इस दौरान कुमारस्वामि ने 4 MLA के CLP मीटिंग में नहीं पहुंचने को लेकर कहा कि वह भी जल्दी आ जाएंगे। नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला और शरद यादव भी पहुंच चुके हैं।

 

 

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए चीफ सोनिया गांधी ने ममता की रैली में नहीं शामिल होने का फैसला लिया था। कांग्रेस की ओर से मल्लिकार्जुन खड़गे और मनु सिंघवी इस रैली में शामिल होंगे। इसके अलावा मायावती भी इस रैली में शामिल नहीं होंगी।

बता दें कि ममता बनर्जी की इस रैली को विपक्ष के शक्ति प्रदर्शन के तौर पर भी देखा जा रहा है। ममता ने रैली के लिए विपक्ष के सभी नेताओं को आमंत्रण भेजा था। ममता ने कहा था, बीजेपी के खिलाफ लड़ाई में हम साथ हैं। यह रैली सभी विपक्षी पार्टियों के लिए एक अहम मोर्चा होगा। इस रैली में देश के कई बड़े नेता जैसे कि तेजस्वी यादव (RJD), अरविंद केजरीवाल (AAP) और शत्रुघ्न सिन्हा जैसे नेता शामिल होंगे और बीजेपी के खिलाफ आवाज उठाएंगे। ममता का दावा है कि इस रैली में 40 लाख से ज्यादा लोग जुटेंगे।


 

खबरें और भी हैं...