रूस-यूक्रेन युद्ध : यूक्रेन से लाए जा रहे भारतीयों के लिए अंतर्राष्ट्रीय यात्रा दिशानिर्देशों में संशोधन

February 28th, 2022

हाईलाइट

  • यूक्रेन से निकाले जा रहे भारतीय नागरिकों को अंतर्राष्ट्रीय आगमन के लिए कोविड से छूट दी गई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। यूक्रेन से निकाले जा रहे भारतीय नागरिकों को अंतर्राष्ट्रीय आगमन के लिए निर्धारित अनिवार्य कोविड प्रावधानों से छूट दी गई है। सोमवार को इसकी घोषणा की गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यूक्रेन से लाए जा रहे भारतीयों को लेकर अंतर्राष्ट्रीय यात्रा दिशानिर्देशों में संशोधन किया। विदेश मंत्रालय, नागरिक उड्डयन और गृह मंत्रालय और अन्य के सहयोग से युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे नागरिकों और छात्रों को भारत वापस लाया जा रहा है।

यूक्रेन से लाए जा रहे भारतीयों को पूर्व-बोडिर्ंग निगेटिव आरटी-पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट या पूरी तरह से टीकाकरण प्रमाण पत्र की अनिवार्य आवश्यकताओं को पूरा करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। दरअसल विदेशों से आने वाले भारतीय नागरिकों को भारत में प्रस्थान से पहले इन दस्तावेजों को एयर-सुविधा पोर्टल पर अपलोड करने की जरूरत होती है, जिससे यूक्रेन से आने वालों को छूट दे दी गई है।

इसके अलावा, मंत्रालय ने उन व्यक्तियों को अनुमति दी है, जिन्होंने अपना कोविड-19 टीकाकरण पूरा कर लिया है, भले ही प्रस्थान व टीकाकरण का देश कुछ भी हो, उन्हें अगले 14 दिनों के लिए अपने स्वास्थ्य की स्वयं निगरानी करने की सलाह के साथ भारत में आने पर हवाई अड्डे से बाहर निकलने की अनुमति दी गई है।

यदि कोई यात्री आगमन पूर्व आरटी-पीसीआर परीक्षण प्रस्तुत करने में सक्षम नहीं है या जिन्होंने अपना कोविड-19 टीकाकरण पूरा नहीं किया है, तो उन्हें 14 दिनों के लिए अपने स्वास्थ्य की स्व-निगरानी जारी रखने की सलाह के साथ आगमन पर अपने नमूने जमा करने की अनुमति दी गई है। यदि रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो उन्हें निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार चिकित्सकीय रूप से प्रबंधित किया जाएगा।

मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि 28 फरवरी तक, कुल पांच उड़ानें एक मुंबई में और चार दिल्ली में यूक्रेन से भारतीयों को लेकर आई हैं। इनमें कुल 1,156 यात्री भारत पहुंचे हैं, जिनमें से किसी भी यात्री को अब तक आइसोलेशन में नहीं रखा गया है।

(आईएएनएस)