दैनिक भास्कर हिंदी: Amphan: चक्रवाती तूफान का तांडव, बंगाल में 72 और ओडिशा में तीन लोगों की मौत, तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर

May 22nd, 2020

हाईलाइट

  • बंगाल में हालात ठीक नहीं, पीएम मोदी करें दौरा: ममता बनर्जी
  • सीएम ममता ने किया 2 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। अम्फान चक्रवाती तूफान ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचाई है। 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से इस तूफान ने कोलकाता एयरपोर्ट तक को क्षतिग्रस्त कर दिया है। कोलकाता शहर और आसपास के कई ​इलाकों में पानी भर गया है। बंगाल में तूफान से तबाही का आंकलन अभी बाकी है, लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अम्फान चक्रवात की वजह से पश्चिम बंगाल में अब तक 72 लोगों की मौत हो चुकी है। ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राज्य का दौरा भी करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि मैंने ऐसी आपदा पहले कभी नहीं देखी थी। मैं प्रधानमंत्री से राज्य का दौरा करने और स्थिति का जायजा लेने का अनुरोध करती हूं। ममता के इस बुलावे पर पीएम मोदी अम्फान के कारण राज्य के दक्षिणी हिस्से में नुकसान का आकलन करने के लिए पीएम मोदी शुक्रवार को बंगाल जाएंगे. प्रधानमंत्री मोदी सुबह 10.30 बजे कोलकाता एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे। इसके बाद पीएम मोदी और ममता बनर्जी कोलकाता सहित उत्तर और दक्षिण 24 परगना के प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे।

ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य में हालात ठीक नहीं हैं। मैं पीएम मोदी से मांग करती हूं कि वो यहां का दौरा करें। मैं भी हवाई सर्वेक्षण करूंगी, लेकिन मैं हालात ठीक होने का इंतजार कर रही हूं। बंगाल सीएम ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख मुआवजा भी देने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि आज हमारी आय शून्य है और हमें चुनौतियों का सामना करना होगा। पूरे बंगाल में 72 लोगों की मौत हुई है। ममता ने बताया कि कोलकाता में 15, हावड़ा में 7, नॉर्थ 24 परगना में 17, ईस्ट मिदनापुर में 6, साउथ 24 परगना में 18 और हुगली में 2 लोगों की मौत हुई है।

बंगाल में ज्यादा नुकसान हुआ
NDRF, DG एसएन प्रधान ने बताया कि दिन में ओडिशा में अम्फान चक्रवात हिट किया था और दोपहर को पश्चिम बंगाल में। ओडिशा में दोपहर और शाम तक NDRF की टीमें तैनात कर दी गई थीं। उन्होंने बताया कि पश्चिम बंगाल में नुकसान ज्यादा हुआ है। इसका भी ग्राउंड सर्वे भारत सरकार की टीम द्वारा किया जाएगा। मुख्य सचिव बंगाल ने अतिरिक्त 4 NDRF की टीमों की मांग की है। अभी उनके पास 21 टीमें हैं। प. बंगाल के प्रमुख सचिव ने बताया कि पांच लाख लोग जो शेल्टर होम में हैं उन्हें अभी भी शेल्टर में ही रहने की हिदायत दी गई है क्योंकि रास्तों में तारें, पेड़ गिरे हुए हैं और साथ ही उनके घर भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं इसके लिए उनका घर जाना सुरक्षित नहीं।

ओडिशा में 24 से 48 घंटों के अं​दर सामान्य हो जाएगा जीवन 
NDRF, DG एसएन प्रधान ने बताया कि ओडिशा में नुकसान कम हुआ है। 24 से 48 घंटों में ओडिशा के जिलों में जीवन सामान्य हो जाएगा। SDRF फंड का आदान-प्रदान MHA टीम के ग्राउंड सर्वे के बाद निर्धारित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ओडिशा में 2 लाख लोग शेल्टर होम्स में थे इनमें से काफी लोगों ने देर शाम और आज सुबह से लौटना शुरू कर दिया है, क्योंकि वहां स्थिति सामान्य हो गई है और वातावरण भी ठीक है। बता दें कि ओडिशा में चक्रवाती तूफान के कारण तीन लोगों की मौत हुई है। इनमें दो महिलाएं और एक 2 माह की बच्ची शामिल हैं।

तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर

Image

ईस्ट मिदनापुर, लॉकडाउन की वजह से मेरे पति की नौकरी छूट गई और वो ओडिशा में फंसे हुए हैं। ऐसे में आए इस चक्रवात ने मेरा पूरा घर तबाह कर दिया। मैं और मेरा बच्चा अब कहां जाएंगे।

Image

पश्चिम बंगाल, ईस्ट मिदनापुर के कालागाछिया और जहानाबाद गांवों में अम्फान चक्रवात के बाद स्थिति और भयावह हो गई है। लोगों के घरों पर गिरे पेड़ों और बिजली के खंभों ने उनके सिर के ऊपर से छत का सहारा भी छीन लिया। लोग अभी भी राहत सेवाओं का इंतजार कर रहे हैं।

Image

ओडिशा: बालासोर जिले के पोदडीहा गांव में फायर बिग्रेड और आपदा सेवा के कर्मचारी एक घर की छत पर गिरे हुए पेड़ को हटाने का काम कर रहे हैं।

Image

कोलकाता: Cyclone Amphan के कारण शहर के कई हिस्से पानी से भरे हुए दिखाई दिए।

Image

पश्चिम बंगाल: कोलकाता एयरपोर्ट रोड पर राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के कर्मचारी बहाली का कार्य करते हुए।
 

 

पश्चिम बंगाल: Cyclone Amphan के कारण कोलकाता एयरपोर्ट का एक हिस्सा पानी से भरा हुआ दिखा।

Image

कोलकाता में आए Cyclone Amphan के कारण छोटी झोपड़ियाँ क्षतिग्रस्त हो गए और रास्ते में कई पेड़ गिरे हुए हैं। फायर बिग्रेड की टीम पेड़ को काट कर रास्ते साफ कर रहे हैं।

Image

Image

Image

कोलकाता: महाचक्रवात अम्फान से मची तबाही में कई पेड़ जड़ से उखड़ गए और वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। तस्वीरें विक्टोरिया मेमोरियल से।

Image

Image

कोलकाता: महाचक्रवात अम्फान से गोल्फ ग्रीन इलाके में कई पेड़ जड़ से उखड़ गए, मकान ढह गए, वाहन क्षतिग्रस्त हो गए और मार्ग अवरुद्ध।

 

 

 

 

 

 

 

खबरें और भी हैं...