दैनिक भास्कर हिंदी: गुजरात से दिल्ली के लिए चली पहली मिल्क ट्रेन, अमूल ने रेलवे को कहा 'शुक्रिया'

November 11th, 2017

डिजिटल डेस्क, गुजरात। भारतीय रेल मंत्रालय काफी समय से ट्विटर पर यात्रियों की परेशानी दूर कर रहा है। यह पहला मौका है जब रेलवे ट्विटर का इस्तेमाल किसी कारोबारी प्रस्ताव के लिए कर रही है। बता दें कि डेयरी क्षेत्र की नामी कंपनी अमूल की पहली मिल्क ट्रेन शनिवार को गुजरात से दिल्ली के लिए रवाना हुई है। जिसकी सूचना अमूल ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए लिखा कि '170 लाख टन अमूल बटर से भरे पहले रेफ्रिजरेटर वैन के साथ हमारी मिल्क ट्रेन को पालनपुर (गुजरात) से दिल्ली के लिए रवाना किया जा रहा है।'

 

 

अमूल ने रेलवे को कहा शुक्रिया

अमूल ने इस त्वरित कार्रवाई के लिए रेल मंत्री को धन्यवाद किया है। दरअसल, अमूल ने 23 सितंबर को इंडियन रेलवे को ट्विटर पर देश के विभिन्न हिस्सों में माल पहुंचाने के लिए रेलवे की सेवाओं का इस्तेमाल करने का प्रस्ताव भेजा था। जिसमें अमूल ने पूछा था कि वह रेलवे के जरिए देशभर में मक्खन पहुंचाना चाहता है। अमूल ने कहा कि वह रेलवे के रेफ्रि‍जरेटेड पार्सल डिब्बे का इस्तेमाल करना चाहता है। 

 

रेल मंत्री ने भी किया ट्वीट

इसके बाद इंडियन रेलवे ने तुरंत इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि "रेलवे को ‘अटर्ली बदर्ली’ दि टेस्ट ऑफ इंडिया को हर भारतीय तक पहुंचाने में प्रसन्नता होगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, 'गुजरात से दिल्ली। प्यार से बनाया और ढोया गया।'
  

 

 
बता दें कि भारतीय रेलवे ने कुछ साल पहले ऐसी खाद्य सामग्री जो खराब हो सकती है उसके परिवहन के लिए रेफ्रीजिरेटिड पार्सल डिब्बे की शुरुआत की थी। जिसे इस्तेमाल करने का आइडिया अमूल को भी आ गया। इसके तहत रेलवे के रेफ्रीजिरेटिड पार्सल डिब्बे से मक्खन की पहली खेप भेजी गई है। बता दें कि अमूल की टैगलाइन  'टेस्ट ऑफ इंडिया' है और वह अपने बटर के विज्ञापन के लिए 'अटर्ली-बटर्ली' शब्द इस्तेमाल करता है। रेलवे ने अमूल के लिए अपने इंजन को भी कंपनी की दैग लाइन और दूध के चित्रों से पेंट कर दिया है।