comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

अनुराग ठाकुर के मोबाइल अस्पतालों का कमाल, सीमा पर स्क्रीनिंग तो घर पर इलाज

June 11th, 2020 19:00 IST
 अनुराग ठाकुर के मोबाइल अस्पतालों का कमाल, सीमा पर स्क्रीनिंग तो घर पर इलाज

हाईलाइट

  • अनुराग ठाकुर के मोबाइल अस्पतालों का कमाल, सीमा पर स्क्रीनिंग तो घर पर इलाज

नई दिल्ली, 11 जून (आईएएनएस)। लॉकडाउन के दौरान हिमाचल प्रदेश की सीमाओं पर आपको कुछ चलते-फिरते अस्पताल मिलेंगे, जिनके जरिए राज्य में बाहर से दाखिल होने वाले लोगों की स्क्रीनिंग हो रही है। वाहनों में संचालित इन मोबाइल अस्पतालों में सारी व्यवस्था है। चाहे 40 तरह के टेस्ट हों या फिर डॉक्टर से इलाज की सुविधा। वाहनों पर अनुराग ठाकुर की तस्वीर लगी होने के कारण तुरंत पता चलता है कि यह उनकी निजी पहल है। पिछले तीन महीने से हिमाचल प्रदेश की सीमाओं पर कोरोना स्क्रीनिंग के लिए उन्होंने ऐसे 17 मोबाइल अस्पतालों की व्यवस्था की है, जिनमें डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ दवाओं के साथ उपलब्ध हैं।

इस तरह के मोबाइल अस्पतालों ने अब तक बाहर से हिमाचल प्रदेश की सीमा में दाखिल होने वाले 30 हजार से ज्यादा लोगों की कोरोना स्क्रीनिंग की है। ताकि हिमाचल प्रदेश में कोरोना को बढ़ने से रोका जा सके। यह कवायद अनुराग ठाकुर की सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा(एसएमएस) का ही हिस्सा है, जो उन्होंने दो साल पहले शुरू की थी। पिछले दो साल के भीतर अनुराग ठाकुर की इस पहल से हिमाचल प्रदेश में उनके संसदीय क्षेत्र हमीरपुर के दो लाख से अधिक मरीजों का घर ही इलाज संभव हुआ है।

दरअसल, संसदीय क्षेत्र हमीरपुर में सुदूर पहाड़ी इलाकों में तमाम गांव बसे हैं। बीमार होने पर लोगों की मुश्किलें बढ़ जातीं हैं। अस्पताल तक आने के लिए लोगों को पापड़ बेलने पड़ते हैं। इसे देखते हुए दो साल पहले स्थानीय सांसद और केंद्रीय राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोचा कि क्यों ने ऐसी व्यवस्था की जाए जिससे लोग अस्पताल न जाएं बल्कि अस्पताल ही उनके घर पहुंचे। इसी सोच के साथ उन्होंने सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा के तहत मोबाइल अस्पताल का संचालन शुरू किया। उन्होंने अपने लोकसभा क्षेत्र हमीरपुर के सभी 17 विधानसभाओं के लिए एक-एक गाड़ियों की व्यवस्था कर एंबुलेंस मॉडल में मोबाइल अस्पताल व्यवस्था शुरू की। अब इन मोबाइल अस्पतालों को सीमा पर लोगों की स्क्रीनिंग के लिए लगाया गया है।

केंद्रीय वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने आईएएनएस को बताया, हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के 5 जिलों,17 विधानसभाओं, 800 पंचायतों के 5000 गांवों में मोबाइल स्वास्थ्य सेवाओं का संचालन हो रहा है। इस अस्पताल सेवा में लिपिड प्रोफाइल, एलएफटी, केएफटी, क्रिएटिनिन, यूरिक एसिड, बीयूएन, शुगर,ग्लूकोज, हेपेटाइटिस बी, हेपेटाइटिस सी जैसे 40 टेस्ट और दवाएं रोगियों को मुफ्त उपलब्ध कराई जा रही हैं। पिछले तीन महीने से मोबाइल स्वास्थ्य सेवाओं के जरिए राज्य की सीमा पर बाहर से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग हो रही है।

अनुराग ठाकुर ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश इस वैश्विक महामारी से लड़ रहा है। केंद्र और राज्य सरकारों के बीच बेहतर समन्वय भी देखने को मिला है। इसी क्रम में हमीरपुर संसदीय में क्षेत्र में चलाई जा रही सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा भी कोरोना महामारी से निपटने में हिमाचल वासियों का पूरा सहयोग कर रही है। प्रदेश सरकार के साथ साथ मोबाइल स्वास्थ्य सेवा की जांच यूनिट भी बाहर से प्रदेश में आने वाले सभी प्रवासियों का राज्य की सीमा पर कोरोना का टेस्ट कर रहीं है। सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा ने अब तक 30000 से ज्यादा लोगों का कोरोना की प्राथमिक जांच करके उपयोगिता साबित कर दी है।

अनुराग ठाकुर ने कहा, दो साल पहले सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा शुरू करने के पीछे संसदीय क्षेत्र के लोगों को घर पर ही स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने की मंशा थी। कोरोना काल में हुए लॉकडाउन के बाद इस सुविधा की अहमियत और बढ़ गई।

कमेंट करें
QJKCU
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।