दैनिक भास्कर हिंदी: मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इनक्वायरी के आदेश, युवती के साथ होटल में पकड़ाए थे

May 26th, 2018

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। आर्मी ने मेजर लीतुल गोगोई के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए कोर्ट ऑफ इनक्वायरी का आदेश दिया है। दरअसल मेजर गोगोई को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कुछ दिन पहले एक होटल से युवती के साथ हिरासत में लिया था। पुलिस ने इस मामले में मेजर के बयान लेने के बाद उन्हें उनकी यूनिट के हवाले कर दिया था। बता दें कि नितिन लीतुल गोगोई वहीं मेजर हैं जिन्होंने पिछले साल सेना की टीम को पथराव से बचाने के लिए एक पत्थरबाज को गाड़ी के बोनट पर बांध दिया था।

 

 


सजा ऐसी होगी की उदाहरण स्थापित होगा
न्यूज एजेंसी एएनआई ने इंडियन आर्मी के हवाले से बताया कि आर्मी ने मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इनक्वायरी का आदेश दिया है। जब इनक्वायरी पूरी हो जाएगी तो उचित एक्शन लिया जाएगा। इससे पहले आर्मी चीफ बिपिन रावत ने दो टूक कहा था कि इंडियन आर्मी में अगर कोई भी चाहे वो किसी भी रैंक का हो गलत करता है और ये हमारे संज्ञान में आता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। अगर मेजर गोगोई ने कुछ गलत किया है तो उन्हें उचित सजा मिलेगी, सजा भी ऐसी होगी कि ये एक उदाहरण स्थापित करेगी।

 



होटल स्टाफ ने मना किया तो हो गया विवाद
कश्मीर की लोकल मीडिया के मुताबिक राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर गोगोई ने श्रीनगर के डलगेट इलाके में स्थित द ग्रैंड ममता होटल का रूम बुक कराया था। एक स्थानीय लड़की और युवक होटल में मेजर के रूम में जाना चाहते थे। होटल स्टाफ ने उन्हें अंदर नहीं जाने दिया, तो वहां विवाद खड़ा हो गया। इस दौरान होटल स्टाफ और इनके बीच बहस होने लगी। कुछ देर बाद वहां आस-पास के लोग जमा हो गए। मामला शांत न होता देख पुलिस को वहां बुला लिया गया जो तीनों को अपने साथ ले गई। 

सोर्स मीटिंग के लिए आए थे होटल
पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक मेजर ने अपने बयान में कहा है कि वह एक ‘‘सोर्स मीटिंग’’ के लिए होटल आए थे। लीतुल गोगोई के नाम पर होटल में दो अतिथियों के एक रात के प्रवास के लिए ऑनलाइन बुकिंग हुई थी। पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर रेंज) स्वयम प्रकाश पाणि ने पुलिस अधीक्षक (उत्तर) को घटना की जांच के आदेश दिए थे। पाणि ने निर्देश दिया था कि इस मामले की रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपी जाए। पुलिस ने जांच के तहत सीसीटीवी फुटेज और मेजर द्वारा भरा गया कमरा आरक्षित करने का फॉर्म  होटल संचालक से मांगा था।

अनमैरिड कपल्स को नहीं देते रूम
इस मामले में होटल मालिक मंज़ूर अहमद ने कहा था कि रूम लीतुल गोगोई के नाम से ऑनलाइन बुक कराया गया था। एक व्यक्ति स्थानीय लड़की के साथ वहां आया और रूम में जाने के लिए कहने लगा। हमारे होटल मैनेजर ने उससे उसका और लड़की का आइडेंटिटी कार्ड मांगा। चूंकि लड़की स्थानीय थी इसलिए रोका गया। हमारी होटल पॉलिसी के अनुसार हम लोकल अनमैरिड कपल्स को रूम उपलब्ध नहीं कराते।