दैनिक भास्कर हिंदी: औरैया हादसा : बॉर्डर के दो थानाध्यक्षों को मुख्यमंत्री ने किया निलंबित

May 16th, 2020

हाईलाइट

  • औरैया हादसा : बॉर्डर के दो थानाध्यक्षों को मुख्यमंत्री ने किया निलंबित

लखनऊ, 16 मई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने औरैया सड़क हादसे में कड़ी कर्रवाई की है। इस मामले में बॉर्डर के दो थानाध्यक्षों को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही उक्त क्षेत्राधिकारियों को कड़ी चेतावनी देने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक व अतरिक्त पुलिस अधीक्षक मथुरा एवं आगरा से मामले में स्पष्टीकरण मांगा है। इसके अलावा एडीजी और आइजी आगरा से भी घटना में स्पष्टीकरण देने को कहा गया है।

इसके अलावा दुर्घटना के लिए जिम्मेदार ट्रक मालिकों व चालकों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करने और वाहनों को जब्त करने के निर्देश दिए गए हैं। श्रमिकों व कामगारों को भोजन पानी देकर बसों से सुरक्षित भिजवाने के लिए कहा है।

मुख्यमंत्री द्वारा सभी बॉर्डर क्षेत्रों में इस निर्देश पर फिर से बल दिया गया है कि ट्रक आदि असुरक्षित साधनों से कोई भी व्यक्ति न चले। मुख्यमंत्री द्वारा बॉर्डर के हर जिले में 200 बस जिलाधिकारी के निवर्तन पर रखने का आदेश पहले ही दे रखा है। साथ ही श्रमिकों को बस से भेजने के लिए धनराशि भी स्वीत की है।

मुख्यमंत्री ने सभी डीएम को फिर से निर्देश दिया है कि इन आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाए। घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतक मजदूरों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों के उपचार के लिए 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता का ऐलान किया है।

गौरतलब हो कि कोरोनावायरस से दिनों दिन बढ़ते संक्रमण के बीच में सड़क दुर्घटनाओं में भी इजाफा होता जा रहा है। लॉकडाउन में भी सरकारों के प्रवासी कामगार-श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचाने के तमाम इंतजाम के बीच भी लोग पैदल या फिर खतरा मोल लेकर घरों की ओर रुख कर रहे हैं। ऐसे ही लोगों से भरे ट्राला को शनिवार को औरैया में डीसीएम ट्रक ने पीछे से टक्कर मार दी, जिससे 24 लोगों की मौत हो गई, जबकि 36 लोग घायल हैं।

राजस्थान से बिहार और झारखंड जा रहे प्रवासियों के ट्रक और खड़ी डीसीएम में टक्कर हो गई। गंभीर रूप से घायल 15 मजदूरों को सैफई के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जबकि अन्य घायल जिला अस्पताल में भर्ती हैं।

खबरें और भी हैं...