comScore

Delhi violence: दिल्ली में CAA के विरोध में हिंसा, 1 हवलदार सहित 4 लोगों की मौत, टायर बाजार और कार मार्केट में लगाई आग

Delhi violence: दिल्ली में CAA के विरोध में हिंसा, 1 हवलदार सहित 4 लोगों की मौत, टायर बाजार और कार मार्केट में लगाई आग

हाईलाइट

  • आमने-सामने आए CAA समर्थक-विरोधी
  • एक शख्स ने चलाई 8 राउंड गोली

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर में सोमवार को एक बार फिर दो गुटों में हिंसक झड़प हो गई। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में उपद्रवियों ने कई जगह पथराव किया और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान सिर पर पत्थर लगने से गोकुलपुरी एसीपी कार्यालय में तैनात हैड कॉन्सटेबल रतन लाल और दो अन्य नागरिकों की मौत हो गई।  

वहीं शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा को गंभीर चोट आई है। उन्हें पटपड़गंज के मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दंगा​ईयों ने उनकी गाड़ी को भी आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने भीड़ को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। पुलिस ने मौजपुर, कर्दमपुरी, चांद बाग, यमुना विहार, भजनपुरा और दयालपुर समेत 10 इलाकों में धारा 144 लागू की है। भजनपुरा में पेट्रोल पंप भी फूंक दिया। जाफराबाद में उपद्रवियों ने खुलेआम पिस्तौल लहराई और फायरिंग की। खजूरी खास में पुलिस खुद भी उपद्रवियों पर पथराव करती नजर आई। रविवार शाम को इस इलाके में पहली बार तब हिंसा भड़की थी, जब भाजपा नेता कपिल मिश्रा एक सड़क खुलवाने पहुंचे थे। 

पुलिस वालों सहित 50 से ज्यादा लोग घायल
उत्तर-पूर्वी दिल्ली जिले में सोमवार को हुई हिंसा में 50 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है। घायलों में डीसीपी शाहदरा सहित 8 पुलिस वाले भी हैं। इन सभी का दिल्ली के गुरु तेग बहादुर और मैक्स अस्पताल में इलाज चल रहा है। सोमवार दोपहर बाद जख्मी हुए शाहदरा जिले के डीसीपी अमित शर्मा सहित 8 पुलिस वालों को पूर्वी दिल्ली जिले के पटपड़गंज इलाके में मौजूद मैक्स अस्पताल में दाखिल कराया गया है, जबकि झड़प में जख्मी 50 से ज्यादा लोगों के जीटीबी अस्पताल में दाखिल कराया गया। जीटीबी अस्पताल में दाखिल लोगों में ज्यादातर हिंसा से जुड़े या फिर बेकसूर हैं।

टायर और कार मार्केट सहित कई क्षेत्रों में रात में भी आगजनी
वहीं जानकारी मिली है कि देर रात में गोकुलपुरी स्थित टायर मार्केट में प्रदर्शनकारियों ने आगजनी की है। दमकल की 6 गाड़ियों मौके पर पहुंच गई हैं। राहत-बचाव का काम जारी है। इसके अलावा दंगाईयों ने कार बाजार में भी आग लगा दी। यहां चांदबाग सहित कई इलाकों में आगजनी की खबर है।

हिंसा के कारण स्कूलों की छुट्टी, बोर्ड परीक्षाओं पर भी संकट
दिल्ली में भड़की हिंसा के कारण दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में भड़की हिंसा के कारण वहां के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे। जिले में बोर्ड परीक्षा के संबंध में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल से बात कर ली है, बोर्ड परीक्षाओं को टाल दिया जाएगा।

गोली चलाने वाले शख्स की हुई पहचान
उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के दौरान पुलिस पर गोलियां चलाने वाले लाल टी-शर्ट पहने शख्स की पहचान कर ली गई है। पुलिस ने बताया कि शाहरुख नाम का यह युवक स्थानीय है और इसी ने करीब 8 राउंड फायरिंग की।

हेड कॉन्सटेबल सहित तीन की मौत
CAA को लेकर दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें एक हेड कॉन्स्टेबल और 2 नागरिक शामिल हैं। बता दें कि प्रदर्शन के दौरान गोकुलपुरी एसीपी कार्यालय में तैनात हेड कॉन्सटेबल रतन लाल के सिर में पत्थर लग गया। इसके बाद उन्हें तुरंत ही पास के अस्पताल में पहुंचाया गया, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। वो मूलरूप से राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे। रतन लाल 1998 में बतौर कॉन्स्टेबल दिल्ली पुलिस में शामिल हुए थे। उनके परिवार में पत्नी और 3 बच्चे हैं। CAA को लेकर भड़की हिंसा में फुरकान अंसारी (32) की मौत हुई है। वो हैंडक्राफ्ट का काम करते थे। उनके परिवार ने दावा किया है कि फुरकान की मौत गोली लगने की वजह से हुई है। वहीं तीसरे मृतक की पहचान शाहिद के रूप में हुई है। वहीं प्रदर्शन में अब तक 37 पुलिसकर्मियों और 20 आम नागरिकों के घायल होने की सूचना मिली है।

ट्रम्प जहां रुके हैं, वहां से 20 किमी दूर हुई हिंसा
लगातार दो दिन हुई हिंसा के बाद सोमवार शाम को उत्तर-पूर्व दिल्ली में सीआरपीएफ की 8 कंपनियां तैनात कर दी गई हैं। डीएमआरसी ने एहतियातन 5 मेट्रो स्टेशन जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जोहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया है। इस रूट की ट्रेनें वेलकम स्टेशन तक ही जाएंगी। जिस इलाके में हिंसा भड़की है, वह चाणक्यपुरी से करीब 20 किमी की दूरी पर है, जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ठहरे हैं। हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली के हालात का जायजा लेने के लिए आपात बैठक बुलानी पड़ी।

जाफराबाद में उपद्रवी ने सरेआम गोलियां चलाईं
जाफराबाद से एक वीडियो सामने आया। भीड़ में शामिल एक उपद्रवी पुलिसकर्मी की ओर पिस्तौल तानता हुआ दिखाई दिया। बाद में उसने हवा में कई राउंड फायर किए। 

मौजपुर में गौदाम और भजनपुरा में पेट्रोल पम्प को फूंका
पुलिस के मुताबिक, जाफराबाद, मौजपुर समेत आसपास के इलाके में सीएए समर्थक और विरोधी आमने-सामने आ गए। दोनों तरफ से पथराव हुआ। इस दौरान उपद्रवियों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी। मौजपुर में एक गोदाम को आग के हवाले कर दिया। वहीं, भजनपुरा में एक पेट्रोल पम्प को आग लगाने की खबर है। इलाके में भारी पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात है। इसबीच, डीएमआरसी ने मौजपुर और बाबरपुर मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए। प्रदर्शन में एक युवक के पैर में और एक पुलिसकर्मी को गोली लगी है। इसके अलावा मीडियाकर्मियों के द्वारा वीडियो बनाए जाने पर भी उपद्रवियों ने उनपर हमला कर दिया।

जाफराबाद मेट्रो स्टेशन जाने का रास्ता सील
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने घटना का संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को निर्देश दिए हैं। जाफराबाद मेट्रो स्टेशन जाने के रास्ते को सील कर दिया गया है। मंत्रालय और एलजी ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से संपर्क कर स्थिति को काबू में करने के निर्देश दिए हैं। डीसीपी (नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली) वेद प्रकाश सूर्य ने कहा कि हमने दोनों पक्षों से बात की है। अब स्थिति नियंत्रण में है। हिंसा में कुछ लोगों के घायल होने की खबरें हैं। हम लोगों से शांति की अपील करते हैं। लोग अपने घरों में रहें और अफवाहों पर ध्यान न दें।

उपद्रवियों ने घरों में घुसकर लोगों से की मारपीट
जाफराबाद में पुलिस के आंसू गैस चलाने के बाद भीड़ ने घरों में घुसकर एक पक्ष के लोगों को पीटना शुरू कर दिया। साथ ही उपद्रवी भीड़ ने करीब एक घंटे तक आसपास के घरों पर पत्थर बरसाए। यह पूरा घटनाक्रम पुलिस के सामने होता रहा और पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी रही। उपद्रवियों से जान बचाने के लिए लोग अपने घरों में दुबकने को मजबूर हैं। जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास उपद्रवियों ने दुकानों में आग लगाने के साथ सैकड़ो घरों के शीशे तोड़ दिए।

दिल्ली सीएम केजरीवाल ने गृहमंत्री और उपराज्यपाल से अपील की
दिल्ली के हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल और गृहमंत्री अमित शाह को शांति व्यवस्था के लिए सख्त कदम उठाने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट किया कि दिल्ली के कुछ हिस्सों से शांति और सद्भाव को बिगाड़ने के बारे में बहुत परेशान करने वाली खबर आ रही है। मैं उपराज्यपाल और माननीय केंद्रीय गृहमंत्री से आग्रह करता हूं कि कानून व्यवस्था को बहाल करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं।

कपिल मिश्रा के खिलाफ शिकायत
सीएए के खिलाफ रविवार को विरोध प्रदर्शन के दौरान जाफराबाद, मौजपुर और दयालपुर में हुई हिंसा मामले में पुलिस ने 4 FIR दर्ज की है। इसके साथ ही BJP नेता कपिल मिश्रा के खिलाफ कल जाफराबाद में भड़काऊ भाषण देने और हिंसा भड़कने के आरोप में जाफराबाद थाने में शिकायत दर्ज करवाई गई है। ये शिकायत कड़कड़डूमा कोर्ट के 6 वकीलों ने दर्ज करवाई है।

कमेंट करें
9s04t