comScore

मुजफ्फर केस पर नीतीश बोले- महिलाओं के लिए गंदे शब्द कहने वाले आज कैंडल लिए खड़े हैं

August 06th, 2018 18:29 IST
मुजफ्फर केस पर नीतीश बोले- महिलाओं के लिए गंदे शब्द कहने वाले आज कैंडल लिए खड़े हैं

हाईलाइट

  • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 लड़कियों के साथ हुई दरिंदगी पर सीएम नीतीश कुमार एक्शन में आए।
  • नीतीश ने इस घटना को काफी शर्मनाक बताया है।
  • सीएम ने सभी जिले के कलेक्टरों को वर्तमान में चल रहे चाइल्ड एंड वुमेन शेल्टर होम में जांच करने के आदेश दिए हैं।

डिजिटल डेस्क, मुजफ्फरपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 लड़कियों के साथ हुई दरिंदगी का खुलासा होने के काफी दिन बाद सीएम नीतीश कुमार एक्शन में आए हैं। नीतीश ने इस घटना को काफी शर्मनाक बताया है। इस मामले में विपक्ष लगातार नीतीश सरकार को घेरता रहा है। सोमवार को नीतीश कुमार ने विपक्ष के हमलों का जवाब देते हुए कहा है कि इस मामले को विपक्ष केवल राजननीति ही कर रहा है, यह शर्मनाक है।

शरद यादव पर तंज कसते हुए सीएम ने कहा कि दिल्ली में धरने पर बैठे लोग इतने संवेदनशील मुद्दे पर हंस रहे थे। यहां तक कि महिलाओं के खिलाफ अपशब्द बोलने वाले नेता हाथ में कैंडल लेकर मार्च कर रहे थे। यह शर्मनाक है। नीतीश कुमार ने शरद यादव का नाम लिए बगैर तीखी टिप्पणी की। नीतीश ने कहा, 'परकटी कहा था न? ऐसे लोग भी कैंडल मार्च में शामिल थे। कोई भी सरकार रहे इस तरह की घटना कहीं भी हो सकती है। हम कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं। कोई समझौता नहीं कर रहे हैं। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।'

नीतीश ने इस मामले में मंत्री मंजू वर्मा का बचाव करते हुए कहा कि इस मामले में निष्पक्ष जांच हो रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। नीतीश ने कहा, 'मंत्री के स्तर पर कोई निर्णय हुआ होगा तो उसपर भी कार्रवाई करेंगे लेकिन यह कहना कि मंत्री को हटा दें यह सही नहीं होगा।'

नीतीश कुमार ने सभी जिले के कलेक्टरों को वर्तमान में चल रहे चाइल्ड एंड वुमेन शेल्टर होम में जांच करने के आदेश दिए हैं। इसी आदेश के साथ बिहार के लगभग सभी प्रशासनिक दफ्तरों में हड़कंप मच गया और अधिकारी भी एक्शन में आ गए हैं।

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में बिहार के डिप्टी सीएम और बीजेपी नेता सुशील मोदी ने लालू के परिवार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा, 'जो नैतिकता की बात कर रहे हैं, उनके घर में ही चारा घोटाले के दोषी बैठे हैं। जिस तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी को रेलवे टेंडर मामले में समन किया जा चुका है, वो दूसरों से इस्तीफा मांग रहे हैं।'

.

कमेंट करें
y3U7o