दैनिक भास्कर हिंदी: भाजपा ने गहलोत से पूछा, कोरोना संकट में विधायकों को 7 स्टार होटल में क्यों किए हैं कैद?

June 16th, 2020

हाईलाइट

  • भाजपा ने गहलोत से पूछा, कोरोना संकट में विधायकों को 7 स्टार होटल में क्यों किए हैं कैद?

नई दिल्ली, 16 जून (आईएएनएस)। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव पी मुरलीधर राव ने कोरोना संकट की घड़ी में राजस्थान में कांग्रेस विधायकों के आलीशान होटल में ठिकाना बनाने पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने गहलोत सरकार के अंदरखाने खटपट होने की तरफ इशारा करते हुए कहा है कि सरकार अगर एकजुट और मजबूत है तो फिर विधायकों को होटल में कैद क्यों किया गया है। भाजपा महासचिव ने कहा है कि अशोक गहलोत के जमाने में हार्स ट्रेडिंग की जगह एलीफैंट ट्रेडिंग होने लगी है।

भाजपा महासचिव पी मुरलीधर राव ने ट्वीट कर कहा, अशोक गहलोत जी,अगर आपकी सरकार इतनी ही मजबूत और एकजुट है तो कांग्रेस के सभी विधायकों को जनता की इस मुसीबत के समय में 7 स्टार होटल में क्यों कैद कर के रखा है? अशोक गहलोत जी जनता को बता दीजिए?

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा, एक तरफ जनता कोरोना से जूझ रही है,आमदनी ना होने से परेशान और लाचार है। कांग्रेस के नेताओं और विधायको को जनता की सेवा मे रहना चाहिए था किंतु ये लोग गत 7 दिनो से 7 सितारा होटल मे मस्ती कर रहे हैं और ताश खेल रहे हैं। यह मौजमस्ती राजस्थान के गरीबों को क्या दिलाने के लिए.जरा बताएं?

तीसरे ट्वीट में मुरलीधर राव ने कहा, हॉर्स ट्रेडिंग की बात तो सुना था, किंतु अशोक गहलोत का जमाना क्या आया यहां एलीफैंट ट्रेडिंग होने लगी, कांग्रेस के नेता की बदौलत यह शब्द डिक्शनरी में जुड़ जाएगा। सीएम ताज्जुब की बात करते हैं और कांग्रेस सरकार की स्थिरता की जिम्मेदारी भाजपा पर डालते हैं। कही ऐसा होता है क्या?

उधर, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव पी मुरलीधर राव ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की घटना की भी जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह की आत्महत्या के बाद कहा जा रहा है कि इसके पीछे कुछ दबाव भी था। आत्महत्या की तरफ उकसाने के गंभीर आरोप लग रहे हैं। इस घटना के सभी पहलुओं की जांच होनी चाहिए। देश भर के लोगों में एक विश्वास पैदा होना बहुत जरूरी है अन्यथा ब्रांड बॉलीवुड की अहमियत खतरे मे आ जाएगी।