दैनिक भास्कर हिंदी: विपक्ष के लिए 'सत्ता' भोग का साधन, हमारे लिए यह सेवा का रास्ता : पीएम मोदी

September 26th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में रविवार को शुरू हई बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक सोमवार को खत्म हो गई। बैठक के समापन सत्र में पीएम मोदी ने जीत का मंत्र फूंका है और बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं को जनता के बीच जाने को कहा है। उन्होंने कहा हमारे लिए सत्ता सेवा का रास्ता है, देश के लिए हमे जिम्मेदारी निभानी होगी। इस दौरान उन्होंने केन्द्र सरकार की उल्टी-सीधी आलोचना करने पर विपक्षी पार्टियों को भी जमकर लताड़ा। 

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कान्फ्रेंस कर बैठक के निष्कर्षों और पीएम मोदी के संबोधन के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी ने जनता द्वारा बीजेपी को दिए मौके पर पूरी तरह से खरा उतरने पर जोर दिया है।

संबोधन में यह बोले पीएम

  • देश ने बीजेपी को बहुत कुछ दिया है। हमारी बहुत जिम्मेदारी बनती है।
  • विपक्ष के लिए सत्ता भोग का साधन है। हमारे लिए यह सेवा का रास्ता है।
  • पार्टी और राजनीति से पहले देश की जनता को सर्वाेपरी बताया है. 
  • विदेशी आतंकी भारत में आए जिन्हें मारा गया।
  • भ्रष्टाचार के मामले में जो भी पकड़ा जाएगा वह बचेगा नहीं।
  • मेरा कोई रिश्तेदार नहीं है।
  • स्वास्थ्य योजना में टीकाकरण की योजना को जनभागीदारी से आगे बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। 
  • किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करनी है।
  • कार्यकर्ता गांवों में जाकर किसानों और लोगों की समस्याओं को समझें।
  • डोकलाम विवाद हमने बेहद शांतिपूर्वक तरीके से निपटाया है।
  • पहली बार है कि चीन के साथ किसी गंभीर मुद्दे को भारत ने इतनी मजबूती के साथ हल किया है।

हिंसा के कीचड़ में खिलेगा कमल : शाह

बैठक में अमित शाह ने क्या कहा, इस बात की जानकारी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दी। पीयूष गोयल ने बताया कि अमित शाह ने बैठक में कहा कि, '2019 के आम चुनावों की जीत पहले से भी बड़ी होगी।' अमित शाह ने केरल और पश्चिम बंगाल में हुई राजनीतिक हिंसा की निंदा करते हुए कहा कि, 'हिंसा से बीजेपी डरने वाली नहीं है। हिंसा का कीचड़ कोई कितना भी फैलाए, भाजपा का कमल उतना ही ज्यादा निखर के आएगा।' बीजेपी अध्यक्ष ने आगे कहा कि, 'देखते जाइए, 2019 की जीत पहले से भी बड़ी होगी। भारत का हर नागरिक चाहता है कि देश गंदगी, गरीबी और तुष्टीकरण की राजनीति से मुक्त हो।' उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी की जनकल्याण योजनाओं की बदौलत दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है।

इसके आगे अमित शाह ने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि, 'राहुल गांधी देश की गरिमा को धूमिल करने का काम कर रहे हैं। राहुल गांधी जिस तरह की तुष्टीकरण की राजनीति करते हैं, उसे देश की जनता नकारती है।' उन्होंने कहा कि 'बीजेपी पॉलिटिक्स ऑफ परफॉर्मेंस पर विश्वास करती है। राजनीति भी ऐसी ही होनी चाहिए जिसमें सबकी चिंता हो।'

5 राज्यों के चुनाव पर है पार्टी की नजर

इस बैठक में पार्टी आगामी रणनीति तय करेगी। पार्टी की नजर कर्नाटक, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, त्रिपुरा और मेघालय में होने वाले विधानसभा चुनावों पर है। इन सभी राज्यों में अगले कुछ महीनों में चुनाव होने हैं। पार्टी चाहती है कि किसी भी तरह से इन राज्यों में जीत का डंका बजाया जाए। इस बैठक में सोशल मीडिया पर पीएम मोदी और केंद्र सरकार के खिलाफ जो कैंपेन चलाया जा रहा है, उससे निपटने की तैयारी भी की गई है।