comScore

भाजपा के घोषणापत्र में 3 प्रमुख मुद्दे हो सकते हैं शामिल

January 30th, 2020 22:01 IST
 भाजपा के घोषणापत्र में 3 प्रमुख मुद्दे हो सकते हैं शामिल

हाईलाइट

  • भाजपा के घोषणापत्र में 3 प्रमुख मुद्दे हो सकते हैं शामिल

नई दिल्ली, 30 जनवरी (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को जारी होने वाले घोषणापत्र में तीन मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किए जाने की संभावना है। इनमें झुग्गीवालों के लिए घर, यमुना रिवरफ्रंट और प्रदूषण मुक्त दिल्ली शामिल हो सकते हैं।

भाजपा ने अपने घोषणापत्र में लोगों के सुझाव लेने के लिए मेरी दिल्ली, मेरा सुझाव कार्यक्रम शुरू किया था।

भाजपा अपने घोषणापत्र में झुग्गी मुक्त दिल्ली को स्थान दे सकती है। जहां झुग्गी, वहां मकान भाजपा के प्रमुख चुनावी वादों में से एक है, जो शुक्रवार को दिल्ली चुनाव के लिए भी घोषणापत्र में जगह बना सकता है। हालांकि यह एक केंद्रीय योजना है, लेकिन भाजपा आठ फरवरी को दिल्ली के चुनावों में इसे भुनाना चाहेगी।

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, जो दिल्ली में भाजपा के प्रचार अभियान से निकटता से जुड़े रहे हैं, पहले ही कह चुके हैं कि केंद्र सरकार जहां झुग्गी, वहां मकान योजना के तहत झुग्गियों में किराए पर रहने वाले लोगों को भी फ्लैट मुहैया कराएगी।

इससे कम से कम 10 लाख लोगों को लाभ होने की उम्मीद है और यही कारण है कि इसे भाजपा अपने चुनावी वादों में शामिल करना चाहेगी।

इससे पहले दिल्ली भाजपा के प्रमुख मनोज तिवारी ने आईएएनएस को बताया था, जहां कहीं भी कोई झुग्गी-बस्ती है, गरीबों को आवास योजना के तहत दो कमरों का घर मिलेगा। उन्हें गैस व पानी के कनेक्शन और शौचालय जैसी सभी बुनियादी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। अब बाहर ठंड में कोई नहीं मरेगा।

इसके साथ ही यमुना रिवरफ्रंट भी प्रमुख मुद्दा है, जिसे भाजपा गुजरात में साबरमती रिवरफ्रंट की तर्ज पर दिल्ली में लाने का वादा करते हुए चुनावी घोषणापत्र में शामिल कर सकती है।

दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए), जो भाजपा के नेतृत्व वाले केंद्र के शहरी विकास मंत्रालय के तहत आता है, पहले से ही यमुना रिवरफ्रंट के 1,500 हेक्टेयर क्षेत्र को विकसित करने के मिशन पर लगा है। डीडीए नदी के पारिस्थितिकीय तंत्र को बहाल करने के लिए क्षेत्र के लैंडस्केपिंग, हरियाली और वृक्षारोपण के लिए विशेषज्ञों की मदद लेगा।

उत्तराखंड से निकलने वाली यमुना नदी दिल्ली में 50 कि. मी. की दूरी या अपनी कुल 1,376 कि. मी. की यात्रा का 3.6 फीसदी कवर करती है। यमुना की सफाई भाजपा या किसी भी दल के लिए एक बड़ी चुनौती जरूर होगी, मगर पार्टी इसे दिल्ली के चुनावी वादों में शुमार करना चाहेगी।

इसके अलावा प्रदूषण मुक्त दिल्ली भी एक अन्य प्रमुख मुद्दा है, जिस पर भाजपा द्वारा ध्यान दिए जाने की संभावना है। जिन दिनों दिल्ली के आसपास खूब पराली जलाई जा रही थी, उस समय पार्टी के सांसद गौतम गंभीर ने लोगों के गुस्से को भांप लिया और लाजपत नगर इलाके में हवा शुद्ध करने वाले एक बड़ा प्यूरीफायर लगवा दिया। इसलिए इसकी भी संभावना बनती है कि भाजपा इस मुद्दे को अपने घोषणापत्र में शामिल कर सकती है।

कमेंट करें
aUHTm