comScore

बैंक फ्रॉड:भांजे रतुल की गिरफ्तारी पर बोले मामा कमलनाथ-मुझे लेना-देना नहीं


हाईलाइट

  • रतुल पुरी मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे हैं
  • रतुल पुरी को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में अग्रिम जमानत मिली हुई है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। करोड़ों का बैंक घोटाला करने के आरोप में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे और बिजनेसमैन रतुल पुरी को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को 354 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में उद्योगपति रतुल पुरी को मंगलवार को गिरफ्तार किया। वहीं भांजे की गिरफ्तारी को लेकर कमलनाथ ने कहा कि, मुझे कोई लेना-देना नहीं है।

भांजे रतुल की गिरफ्तारी पर सीएम कमलनाथ ने कहा, उनके बिजनेस से मेरा कोई संबंध नहीं है। यह पूरी तरह से अनुचित है। मुझे अदालत की कार्रवाई पर पूरा भरोसा है।

मोजर बेयर के तत्कालीन कार्यकारी निदेशक रतुल पुरी और अन्य के खिलाफ सीबीआई ने शनिवार को केस दर्ज किया था। ये मामला सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से दायर 354 करोड़ रुपये के बैंक घोटाले में दर्ज किया गया। जिन पर मुकदमा दर्ज किया गया था उनमें रतुल के अलावा उनके पिता और एमबीआईएल के प्रबंध निदेशक दीपक पुरी, निदेशकों- नीता पुरी (रतुल की मां और कमलनाथ की बहन), संजय जैन और विनीत शर्मा शामिल हैं। अधिकारियों ने बताया इन पर कथित तौर पर आपराधिक षड्यंत्र रचने, धोखाधड़ी, फर्जीवाड़ा और भ्रष्टाचार के आरोप हैं। बैंक ने एक बयान में बताया कि, रतुल पुरी ने 2012 में कार्यकारी निदेशक के पद से इस्तीफा दे दिया था, जबकि उनके माता-पिता निदेशक मंडल में रहे। सीबीआई ने सोमवार को 6 स्थानों पर छापेमारी भी की थी। 

रतुल पुरी अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भी जांच के घेरे में हैं। रतुल पर उनकी कंपनी के जरिए कथित तौर पर रिश्वत लेने का आरोप है। ईडी का आरोप है कि रतुल पुरी की स्वामित्व वाली कंपनी से जुड़े खातों का उपयोग रिश्वत की रकम लेने के लिए किया गया। अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर डील 3,600 करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग का मामला है।

कमेंट करें
2Ng0d