दैनिक भास्कर हिंदी: राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज को दी गई CM की बुलेट प्रूफ कार

September 19th, 2017

डिजिटल डेस्क, रोहतक  डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम सिंह को रेप के मामले में दोषी करार देने वाले जज जगदीप सिंह की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उनकी सुरक्षा में लगे जवानों की संख्या 45 से बढ़ाते हुए 60 कर दी गई है और उन्हें बुलेट प्रूफ गाड़ी भी दी गई है। जानकारी के मुताबिक, सीबीआई जज जगदीप सिंह राम रहीम के दो और मामले की सुनवाई कर रहे हैं जिनमें राम रहीम के खिलाफ पत्रकार रामचंद्र छत्रपति और रणजीत सिंह मर्डर केस है।

सीएम की गाड़ी दी गई
जज जगदीप सिंह को सीएम की बुलेट प्रूफ गाड़ी दी गई है। यह गाड़ी फिलहाल सीआईडी के पास थी, सीआईडी रिपोर्ट के आधार पर जज की सुरक्षा बढ़ाई गई है।

कौन से हैं वो दो मामले
पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या
सांध्य दैनिक 'पूरा सच' के संपादक रामचन्द्र छत्रपति को 24 अक्तूबर 2002 को सिरसा के उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 21 नवंबर 2002 को छत्रपति की दिल्ली के अपोलो अस्पताल में मौत हो गई थी। हत्या की वजह उनके अखबार ‘पूरा सच’ ने द्वारा एक गुमनाम पत्र छापना बताया गया था, जिसमें डेरा मुख्यालय में साध्वियों के यौन उत्पीड़न की कहानियां बताई गई थीं।

पूर्व डेरा प्रबंधक की हत्या
राम रहीम पर दूसरा मामला डेरा प्रबंधक समिति सदस्य रहे रणजीत सिंह की हत्या का है। 10 जुलाई 2002 को पूर्व डेरा प्रबंधक की हत्या कर दी गई थी। दरअसल, डेरा प्रबंधन को रंजीत सिंह पर साध्वी का पत्र तत्कालीन प्रधानमंत्री तक पहुंचाने का शक था। हत्या का शिकार बने दोनों परिवार के लोगों ने इस मामले को अदालत तक पहुंचाया, जिसके बाद हाई कोर्ट ने नवंबर 2003 में सीबीआई जांच के आदेश दिए थे।