comScore

सीबीएसई ने छात्रों एवं अध्यापकों के लिए तैयार की विशेष पुस्तिकाएं

May 20th, 2020 18:01 IST
 सीबीएसई ने छात्रों एवं अध्यापकों के लिए तैयार की विशेष पुस्तिकाएं

हाईलाइट

  • सीबीएसई ने छात्रों एवं अध्यापकों के लिए तैयार की विशेष पुस्तिकाएं

नई दिल्ली, 20 मई (आईएएनएस)। मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने बुधवार को एक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा तैयार की गई तीन पुस्तिकाओं का अनावरण किया।

जारी की गई पुस्तिकाओं में से एक कक्षा नौवीं से बारहवीं तक के छात्रों को साइबर सुरक्षा के बारे में जागरूक करेगी। इस पुस्तिका का नाम साइबर सुरक्षा हैंडबुक रखा गया है। सीबीएसई ने दूसरी पुस्तिका प्रिंसिपल हैंडबुक नाम से जारी की है जिसके द्वारा वो स्कूलों के प्रधानाचार्यो को बोर्ड की प्रणालियों और अन्य उपयोगी जानकारियों के बारे में अवगत कराएगा। वहीं तीसरी पुस्तिका 21 सेंचुरी स्किल्स हैंडबुक के द्वारा सीबीएसई सभी को 21वीं शताब्दी के कौशलों के बारे में अवगत एवं जागरूक करवाएगा और उनको अपने दैनिक जीवन में उपयोग करने के लिए प्रेरित करेगा।

इन तीनों पुस्तिकाओं का अनावरण करते हुए केंद्रीय मंत्री माननीय डॉ निशंक ने कहा, सीबीएसई द्वारा की गई इस पहल का हम हृदय से स्वागत करते हैं और सीबीएसई को बधाई देते हैं कि उन्होंने इन तीनों पुस्तिकाओं द्वारा सभी के लिए कुछ न कुछ तैयार किया है। ये तीनों पुस्तिकाएं देश की सम्पूर्ण शिक्षा प्रणाली के अंतर्गत आने वाले सभी लोग लाभान्वित होंगे। सीबीएसई द्वारा की जाने वाली ऐसी पहल द्वारा देश के साथ साथ देशवासियों के विकास में भी मदद करेंगी।

इसके पहले सीबीएसई ने अक्टूबर और नवंबर 2019 में इसी संबंध में ऐसी ही 14 पुस्तिकाएं तैयार की थीं।

इससे पहले बुधवार को ही केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इग्नू के एमए हिंदी कार्यक्रम की ऑनलाइन शुरुआत की।

इस अवसर पर मंत्री निशंक ने कहा, इग्नू द्वारा शुरू किया गया ऑनलाइन एमए हिंदी का पाठ्यक्रम बहुत सारे छात्रों को लाभान्वित करेगा। इस पाठ्यक्रम को ऑनलाइन पढ़ाने की शुरुआत के साथ ही इग्नू विश्व का पहला विश्वविद्यालय बन गया है जो एमए हिंदी का पूरा पाठ्यक्रम ऑनलाइन भी पढ़ायेगा। इस अनूठी उपलब्धि के लिए मैं इग्नू के कुलपति श्री नागेश्वर राव को बधाई देता हूं और उम्मीद करता हूं कि इग्नू की इस पहल से अन्य विश्वविद्यालय भी आगे आएंगे और जल्द से जल्द ऑनलाइन शिक्षा से जुड़ेंगे।

कमेंट करें
86utQ